GDP में होगा मोबाइल ऐप्स का योगदान, 5G की राह पर देशः सिन्हा

  • GDP में होगा मोबाइल ऐप्स का योगदान, 5G की राह पर देशः सिन्हा
You Are HereBusiness
Saturday, July 15, 2017-5:14 PM

नई दिल्लीः केंद्र सरकार की डिजिटल इंडिया मुहिम के चलते मोबाइल ऐप्स ने देश की जी.डी.पी. में अपना काफी अहम योगदान दिया है। सरकार की तरफ से जारी डाटा के अनुसार 2015-16 में मोबाइल ऐप्स से 1.4 लाख करोड़ रुपए आए थे। सरकार को अनुमान है कि 2020 तक ये आंकड़ा 20 लाख करोड़ रुपए पहुंच जाएगा।

टेलीकॉम पॉलिसी में होगा बदलाव
टेलीकॉम मंत्री मनोज सिन्हा ने रिपोर्ट जारी करते हुए कहा कि अब डाटा का प्रयोग वॉयस के मुकाबले ज्यादा हो रहा है। इसके चलते सरकार अब अपनी टेलीकॉम पॉलिसी में भी बदलाव करने जा रही है। ऐसा इसलिए क्योंकि देश 5 जी के लिए तैयार हो रहा है। 2022 तक नॉर्थ अमरीका के साथ अगली पीढ़ी की तकनीक के लिए दुनिया का नेतृत्व कर सकता है।'
PunjabKesari
GDP में होगा इंटरनेट का योगदान

ब्रॉडबैंड इंडिया फोरम और आई.सी.आर.आई.ई.आर. द्वारा की गई स्टडी के अनुसार 2020 तक भारत की जी.डी.पी. में इंटरनेट से $537.4 बिलियन की कमाई होने की उम्मीद है। इसमें से केवल 270 बिलियन डॉलर मोबाइल ऐप से आएगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि 22 टेलीकॉम सर्किल में से 19 में यह देखा गया है। क्योंकि इंटरनेट का पूरा इस्तेमाल ऐप बेस्ड नहीं है, ऐसे में हम भारत में इंटरनेट इकॉनमी के लिए ऐप्लिकेशन के योगदान पर धारणाओं का उपयोग करते हुए अनुमान को कम करते हैं।' ऐप्स या ऐप्लिकेशन ज्यादातर स्मार्टफोन पर इस्तेमाल होती हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You