वादे से मुकरी मोदी सरकार, गृहिणी, मजदूरों के खातों की भी जांच!

  • वादे से मुकरी मोदी सरकार, गृहिणी, मजदूरों के खातों की भी जांच!
You Are HereEconomy
Saturday, November 19, 2016-3:19 PM

नई दिल्लीः नोटबंदी के एेलान के 10 दिनों के बाद भी लोगों की कतार बनी हुई है। लोग अब भी परेशान हैं। परेशानी और भी बढ़ रही है क्योंकि नोटबंदी पर हर रोज नए  फरमान जारी हो रहे हैं। और इसके साथ हो रहा है कंफ्यूजन। ताजा खबर है कि अगर आप गृहिणी हैं, मजदूर हैं, या एक आम आदमी, अगर आपको अब तक ये गलतफहमी थी कि आपके खाते में 2.5 लाख रुपए जमा करने पर कोई पूछताछ नहीं करेगा तो जान लीजिए। इनकम टैक्स विभाग की इन पर भी नजर है, क्योंकि ऐसे कम पैसे वाले खातों और जनधन अकाउंट के गलत इस्तेमाल की खबरों के बाद सरकार एक्शन में आ गई है। ये तब हो रहा है जब खुद पीएम मोदी ने गृहणियों को नहीं डरने का भरोसा दिलाया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 नवंबर को गाजीपुर से ये एेलान किया था कि घरेलू महिलाओं के बचत के जमा पैसों को बैंक में जमा करने पर उन्हें परेशान नहीं किया जाएगा आपने सही पढ़ा है कि सरकार ने साफ-साफ कहा था कि दस्तकारों, श्रमिकों, गृहिणियों द्वारा जमा कराए गए 2.5 लाख तक के रुपए के बारे में आयकर विभाग द्वारा पूछताछ नहीं की जाएगी क्योंकि यह राशि आयकर छूट की सीमा के दायरे में आती है। लेकिन अब सरकार अपने वादे से मुकर रही है। वित्त मंत्रालय ने बकायदा इसके लिए प्रेस रिलीज जारी की है। लेकिन बड़ा सवाल ये है कि क्या सरकार को इस बात का अंदाजा नहीं था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You