सेबी ने कंसा शेल कंपनियों पर शिकंजा, जारी की 331 शेल कंपनियों की लिस्ट

  • सेबी ने कंसा शेल कंपनियों पर शिकंजा, जारी की 331 शेल कंपनियों की लिस्ट
You Are HereBusiness
Tuesday, August 08, 2017-1:04 PM

नई दिल्ली : काले धन की समस्या और कंपनियों की अवैध ट्रेडि़ग रोकने के लिए सरकार ने करवाई तेज कर दी है। अपने इस प्रयास की ओर कदम बढ़ाते हुए मार्केट रेग्युलेटर सेबी ने 331 कंपनियों की लिस्ट जारी की है, जिनमें कुछ लिस्टेड कंपनियां भी शामिल हैं। कॉरपोरेट अफेयर्स मंत्रालय ने शेल कंपनियों की पहचान की थी

इन कंपनियों में महीने में सिर्फ एक बार पहले सोमवार को ही ट्रेडिंग हो पाएगी। निवेशकों को ट्रेडिंग के लिए 200 फीसदी का मार्जिन रखना होगा और पिछले बंद भाव के ऊपर सौदे नहीं होंगे। साथ ही एक्सचेंज द्वारा इन कंपनियों से जुड़ी बुनियादी जानकारियों (फंडामेंटल्स) की जांच होगी।  इन कंपनियों में गैलेंट इस्पात, जे कुमार इंफ्रा, पिनकॉन स्पिरिट, पार्श्वनाथ डेवलपर्स, प्रकाश इंडस्ट्रीज, एसक्यूएस बीएफएसआई, रोहित फेरो, आरईआई एग्रो और असम कंपनी का नाम शामिल है।

क्या होती हैं शेल कंपनियां
शेल कंपनियों के जरिए ब्‍लैक मनी को व्‍हाइट किया जाता है और टैक्स को पूरी तरह से बचाने या कम से कम रखने की कोशिश की जाती है ।अधिकांश मामलों में इन कंपनियों का कारोबार सिर्फ कागजों पर चलता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक शेल कंपनियों का रजिस्ट्रेशन सामान्य कंपनियों की तरह होता है ।सामान्य कंपनियों की तरह इनमें डायरेक्टर्स होते हैं. साथ ही रिटर्न भी फाइल किया जाता है। इन कंपनियों का मालिक कोई भी हो, लेकिन ये दूसरों के काम आती हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You