मैकडॉनल्ड्स विवाद: कारवाई से पहले एल.सी.आई.ए. के फैसले का अध्ययन करेगा NCLAT

  • मैकडॉनल्ड्स विवाद: कारवाई से पहले एल.सी.आई.ए. के फैसले का अध्ययन करेगा NCLAT
You Are HereBusiness
Thursday, September 21, 2017-7:10 PM

नई दिल्लीः अमरीका फास्ट फूड कंपनी मैकडॉनल्ड्स और उसके सहयोगी विक्रम बक्शी के बीच जारी विवाद पर राष्ट्रीय कंपनी कानून अपीलीय न्यायाधिकरण (एन.सी.एल.ए.टी.) ने आज कहा कि वह इस मामले में लंदन अंतर्राष्ट्रीय मध्यस्थता अदालत (ए.ल.सी.आई.ए.) के फैसले का अध्ययन करेगा। एल.सी.आई.ए. ने पिछले हफ्ते बक्शी को संयुक्त उद्यम सी.पी.आर.एल. में अपनी हिस्सेदारी कंपनी को बेचने को कहा था।

मामले की सुनवाई को 25 अक्टूबर के लिए सूचीबद्ध करते हुए न्यायाधिकरण ने कहा कि वह इस मामले में आगे कारवाई करने से पहले एल.सी.आ.ई.ए. के मध्यस्थता फैसले का अध्ययन करेगा। न्यायाधीश एस जे मुखोपाध्याय की अध्यक्षता वाली एन.सी.एल.ए.टी. खंडपीठ ने कहा, हमें यह देखना होगा कि यह मध्यस्थता संबंधी विवाद है या परिचालन कुप्रबंधन का मामला, इसका न्यायक्षेत्र उस पर ही निर्भर करेगा।

पिछले महीने मैकॉनल्ड्स ने विक्रम बक्शी के नेतृत्व वाले कनॉट प्लाजा रेस्त्ररां लिमिटेड (सीपीआरएल) द्वारा पूर्वी और उत्तरी भारत में संचालित 169 दुकानों का लाइसेंस निरस्त कर दिया था जिसके बाद बक्शी ने राष्ट्रीय कंपनी कानून अपीलीय न्यायाधिकरण का रुख किया था। हालांकि, एन.सी.एल.ए.टी. ने बक्शी  को अंतरिम राहत देने से इनकार कर दिया था और मामले की सुनवाई के लिए आज की तिथि तय की थी।   

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You