ओला-उबर के खिलाफ CCI पहुंची मेरु, बाजार में दबदबे का दुरुपयोग

You Are HereBusiness
Thursday, October 12, 2017-4:21 PM

नई दिल्लीः टैक्सी सेवा प्रदान करने वाली घरेलू कंपनी मेरु कैब्स ने ओला, उबर पर बाजार में अपने दबदबे की स्थिति का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सी.सी.आई.) में शिकायत दर्ज कराई है। मेरु कैब्स ने कहा कि ये कंपनियां चार शहरों के बाजार में अनुचित व्यावसायिक व्यवहार में लिप्त हैं। कंपनी ने सी.सी.आई. में चार अलग-अलग शिकायतें दर्ज करते हुए आरोप लगाया कि ओला और उबर विदेशी निवेशकों का पैसा लगाकर बाजार में बाधा पहुंचा रहे हैं। हाल ही में बेंगलुरु बाजार को लेकर ओला पर इसी तरह के आरोप लगे थे, जिसे सी.सी.आई. ने खारिज कर दिया था। साथ ही उसने पूरी तरह से विकसित नहीं हुए टैक्सी सेवा बाजार में हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया था।
PunjabKesari
4 अलग अलग शिकायतें दर्ज कराई
मेरु कैब्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीलेश संघोई ने कहा, हमने चार शहरों में परिचालन को लेकर ओला और उबर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। दोनों कंपनियों ने बाजार में विदेशी पैसा डालकर और बिक्री सेवाओं को लागत से कम कीमत पर देकर व्यापार की गतिशीलता को बाधित किया है। उन्होंने आगे कहा कि ओला और उबर दोनों आपस में प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं इससे बाजार में एकाधिकार जैसी स्थिति पैदा हो रही है। नीलेश ने आरोप लगाया कि ओला और उबर ड्राइवरों को अधिक सब्सिडी, ग्राहकों को (अव्यावहारिक) छूट देकर टैक्सी सेवा बाजार को प्रभावित कर रहे हैं। ओला और उबर ने अपने ऊपर लगे आरोपों पर प्रतिक्रिया देने से इनकार किया है। ओला ने बुधवार को चीन के टेंसेंट होल्डिंग्स और सॉफ्टबैंक समूह से ताजा निवेश के रूप में 1.1 अरब डॉलर रुपये जुटाने की घोषणा की है।        

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You