मूडीज ने भारत की सोवरेन रेटिंग बढ़ाने से किया इनकार, BAA 3 लैवल पर स्थिर

  • मूडीज ने भारत की सोवरेन रेटिंग बढ़ाने से किया इनकार, BAA 3 लैवल पर स्थिर
You Are HereEconomy
Thursday, November 17, 2016-2:05 PM

नई दिल्लीः अंतरराष्ट्रीय रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भारत की सोवरेन रेटिंग में कोई सुधार नहीं किया है बल्कि बीएए3 पर स्थिर रखा है। उसने सोवरेन रेटिंग का आउटलुक पॉजीटिव करार दिया है। क्रेडिट रेटिंग एजेंसी ने उम्मीद जताई है कि संतुलित विकास और सरकार का कर्ज बोझ घटाने क लिए सुधार जारी रखेगी।

रेटिंग में सुधार पर विचार करेगी एजेंसी
भारत ने मूडीज से रेटिंग में सुधार करने के लिए अपना पक्ष रखा और सुधारों का हवाला दिया था। लेकिन इस अमरीकी एजेंसी ने कहा है कि सरकार द्वारा किए गए सुधारों का स्पष्ट लाभ मिलने का वह इंतजार करेगी। इसके बाद सोवरेन रेटिंग में सुधार पर विचार करेगी। मूडीज ने कहा है कि सुधारों के लिए नीतिगत प्रयासों का अभी तक स्पष्ट फायदा नजर नहीं आया है। इसका फायदा टिकाऊ व उच्च विकास दर और कर्ज भार में कमी के रूप में सामने आना चाहिए। ऐसा होने पर वह रेटिंग में सुधार करेगा।

सुधार होते ही BAA 2 लैवल पर होगा भारत
पॉजीटिव आउटलुक का आशय है कि मूडीज को भारत की रेटिंग सुधरने की उम्मीद है। सुधार होने पर भारत की अगली रेटिंग अगले पायदान बीएए2 पर होगी। एजेंसी के अनुसार उसके आउटलुक से संकेत मिलता है कि हमें नीतिगत सुधार लागू होने की उम्मीद है। इससे संतुलित विकास को बल मिलेगा और सरकार का कर्ज कम होगा। अभी भारत की रेटिंग सुधरने में ये दोनों बाधाएं हैं।

निवेश और बचत बढ़ने से होगा रेटिंग में सुधार
भारत की मौजूदा सोवरेन रेटिंग बीएए3 सबसे निचली रेटिंग जंक से सिर्फ एक पायदान ऊपर है। मूडीज के अनुसार भारत ने कई नीतिगत बदलाव किए हैं जिनसे मंहगाई कम करने और चालू खाता घाटा (सी.ए.डी.) को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। कई नीतिगत सुधार, अगर प्रभावी होते हैं तो देश में निवेश बढ़ेगा और बचत को बढ़ावा मिलेगा। सरकार जी.एस.टी. और बैंक्रप्सी कोड जैसे कई सुधार लागू कर रही है। ये नीतिगत फैसले अभी हाल में ही किए गए हैं और उनका प्रभाव अनिश्चित है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You