टोल टैक्स पेमेंट के लिए नई गाड़ियों में लगेगा डिजिटल टैग

  • टोल टैक्स पेमेंट के लिए नई गाड़ियों में लगेगा डिजिटल टैग
You Are HereEconomy
Wednesday, November 23, 2016-5:30 PM

नई दिल्ली: सरकार ने वाहन निर्माता कंपनियों से कहा है कि वह कार समेत सभी नए वाहनों में डिजिटल पहचान टैग की सुविधा उपलब्ध कराएं ताकि सभी टोल केंद्रों पर इलैक्ट्रॉनिक भुगतान हो सके और लंबे जाम की स्थिति से मुक्ति मिल सके।

इलैक्ट्रॉनिक लेनदेन को मिलेगा बढ़ावा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों को चलन से बाहर करने के पीछे की मंशा भी यही है कि देश को नकदी रहित डिजिटल अर्थव्यवस्था की आेर बढ़ाया जाए। एक एेसे देश में जहां अधिकतर ग्राहक नकदी में लेनदेन करते हैं वहां पर सरकार इलैक्ट्रॉनिक लेनदेन को बढ़ावा देने की कोशिश कर रही है ताकि बेहतर पारदर्शिता और कालेधन पर अंकुश लगाया जा सके।

आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने पत्रकारों से कहा, ‘‘जहां तक सभी टोल बूथों का सवाल है, सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने वाहन विनिर्माताओं से कहा है कि सभी नए वाहनों में विनिर्माता रेडियो आवृत्ति पहचान (आर.एफ.आई.डी.) की सुविधा उपलब्ध कराएं।’’

कार्यप्रणाली होगी बेहतर  
उन्होंने कहा कि सभी नए वाहनों पर इलैक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट कोड ग्लोबल इंकोरपोरेटेड (ई.पी.सी.जी.) से संबंद्ध आर.एफ.आई.डी. सुविधा शुरू होने से टोल बूथों पर डिजिटल भुगतान सुनिश्चित होगा और वहां लंबी प्रतीक्षा का समय भी कम होगा। इसके अलावा वाहन तेजी से टोल बूथों से गुजर सकेंगे। दास ने कहा कि इससे टोल बूथों पर कार्यप्रणाली बेहतर होगी और डिजिटल भुगतान बढ़ेगा। नोटबंदी के बाद नकदी संकट को देखते हुए सरकार ने सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर फिलहाल टोल से छूट दी हुई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You