Subscribe Now!

रियल्टी सेक्टर पर नहीं दिखा नोटबंदी का असर, बढ़े मकानों के दाम

  • रियल्टी सेक्टर पर नहीं दिखा नोटबंदी का असर, बढ़े मकानों के दाम
You Are HereBusiness
Wednesday, July 12, 2017-12:41 PM

नई दिल्लीः नोटबंदी से रियल एस्टेट कारोबार में तेजी आई है। नैशनल हाउसिंग बैंक (एन.एच.बी.) के एक अध्ययन के मुताबिक देश में 50 में से 26 शहरों में मकानों के दाम पिछले साल दिसंबर से इस साल मार्च के बीच चढ़ गए हैं। इनमें महानगर भी हैं, राज्यों की राजधानियां भी और छोटे शहर भी।

छोटे शहरों में कीमतें बढ़ी 
50 शहरों में रियल एस्टेट पर नजर रखने वाले एन.एच.बी. रेसिडेंस इंडेक्स के मुताबिक दिल्ली, कोलकाता, हैदराबाद और नई मुंबई में मकानों के दाम बेशक घटे होंगे, लेकिन छोटे शहरों में कीमतें बढ़ी हैं। विजाग और रायपुर में रियल एस्टेट के दाम 10 फीसदी उछले हैं और कानपुर में 8 फीसदी तेजी आई। इन तीन महीनों में भुवनेश्वर में रियल्टी के दाम सबसे ज्यादा 11 फीसदी चढ़े। ये आंकड़े बैंकों और हाउसिंग फाइनैंस कंपनियों से मिली जानकारी पर आधारित है।
PunjabKesari
दिल्ली में दाम 6 फीसदी गिरे
पिछले साल 8 नवंबर से शुरू हुई नोटबंदी का असर महानगरों के जमीन-जायदाद के बाजार पर बहुत ज्यादा पड़ने की आशंका जताई जा रही थी। लेकिन महानगरों में भी रियल एस्टेट की कीमतें थोड़ी बढ़ गईं। ठाणे में भी कीमतों में 2 फीसदी तेजी आई। सूचकांक के मुताबिक दिल्ली में इस दौरान दाम 6 फीसदी गिरे, लेकिन गुरुग्राम में इतने ही चढ़ गए। ग्रेटर नोएडा में मकान की कीमतों में कमी आई। सूचकांक के आंकड़ों से साफ है कि वडोदरा, नासिक, पुणे जैसे शहरों में कीमतों में तेजी आई है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You