Ola और Snapdeal के निवेशक सॉफ्टबैंक को भारत में 56 करोड़ डॉलर का नुकसान

  • Ola और Snapdeal के निवेशक सॉफ्टबैंक को भारत में 56 करोड़ डॉलर का नुकसान
You Are HereResults Company
Tuesday, November 08, 2016-5:36 PM

नई दिल्‍लीः जापान के सॉफ्टबैंक कॉर्प को भारत में 56 करोड़ डॉलर (करीब 3,700 करोड़ रुपए) के इन्‍वेस्‍टमेंट का नुकसान हुआ है। सॉफ्टबैंक को ओला और स्‍नैपडील जैसी कंपनियों से ज्‍यादा झटका लगा है। सॉफ्टबैंक ने 30 सितंबर को समाप्‍त छमाही के स्‍टेटमेंट में भारत से 58.14 अरब येन का इन्‍वेस्‍टमेंट लॉस दर्ज किया है। यह नुकसान उसके शेयर्स की वैल्‍यू के टर्म में है। इसमें से 29.62 अरब येन का नुकसान करंसी में उतार-चढ़ाव से हुआ।

सॉफ्टबैंक के इन्‍वेस्‍टमेंट लॉस में देश की सबसे बड़ी कैब एग्रीगेटर ओला को ऑपरेट करने वाली कंपनी ए.एन.आई. टेक्‍नोलॉजिज और ई-मार्कीटप्‍लेस स्‍नैपडील की प्रमोटर जैस्‍पर इन्‍फोटेक में किया गया इन्‍वेस्‍टमेंट भी शामिल है। सॉफ्टबैंक ने अर्निंग स्‍टेटमेंट में कहा है कि एफ.वी.टी.पी.एल. (फेयर वैल्‍यू थ्रू प्रॉफिट आरलॉस) फाइनेंशियल इंस्‍ट्रूमेंट्स से नफा या नुकसान प्रिफर्ड स्‍टॉक इन्‍वेस्‍टमेंट की फेयर वैल्‍यू में तुलनात्‍मक बदलाव से है।

सॉफ्टबैंक ने अक्‍टूबर 2014 में ओला में 21 करोड़ डॉलर (1400 करोड़ रुपए) और स्‍नैपडील में 62.7 करोड डॉलर (करीब 4200 करोड़ रुपए) का इन्‍वेस्‍टमेंट किया था। जापानी कंपनी ने इन दोनों फर्म में इसके बाद भी इन्‍वेस्‍टमेंट किया। ओला और स्‍नैपडील अपने कॉम्पिटीटर्स से मुकाबले के लिए फ्रेश फंडिंग जुटाने की संभावनाएं तलाश रही हैं। बेंगलुरु की ओला अब तक कई इन्‍वेस्‍टर्स से 1.2 अरब डॉलर (करीब 8000 करोड़ रुपए) जुटा चुकी है। इनमें टाइगर ग्‍लोबल मैनेजमेंट, मैट्रिक्‍स पाटर्नर्स, सॉफ्टबैंक ग्रुप और दीदी शुझिंग जैसे इन्‍वेस्‍टर शामिल हैं।

पिछले साल, स्‍नैपडील डॉट कॉम ने चीनी कंपनियों अलीबाबा ग्रुप, फॉक्‍सकॉन टेक्‍नोलॉजी ग्रुप और सॉफ्टबैंक ग्रुप से 50 करोड डॉलर (करीब 3400 करोड़ रुपए) जुटाए हैं। सॉफ्टबैंक भारत में अब तक 2 अरब डॉलर (करीब 13,400 करोड़ रुपए) का इन्‍वेस्‍टमेंट कर चुका है। इस साल की शुरुआत में सॉफ्टबैंक ने अगले 5-10 में अपना इन्‍वेस्‍टमेंट बढ़ाकर 10 अरब डॉलर करने का प्‍लान बनाया था। पिछले महीने सॉफ्टबैंक ने कहा था कि वह सउदी अरब के पब्लिक इन्‍वेस्‍टमेंट फंड के साथ मिलकर एक नया फंड बनाएगा। इससे वह अगले पांच साल में 100 अरब डॉलर का इन्‍वेस्‍टमेंट ग्‍लोबल टेक्‍नोलॉजी इंडस्‍ट्री में करेगी। 


 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You