पनामा पेपर्स घोटालाः सिनटैक्स की 48.87 करोड़ की संपत्ति जब्त

  • पनामा पेपर्स घोटालाः सिनटैक्स की 48.87 करोड़ की संपत्ति जब्त
You Are HereBusiness
Monday, December 18, 2017-10:45 AM

नई दिल्लीः प्रवर्तन निदेशालय (ई.डी.) ने बताया कि उसने फेमा के तहत अहमदाबाद की कंपनी सिनटैक्स की 48.87 करोड़ की संपत्ति जब्त की है। पनामा पेपर केस की जांच के दौरान इस कंपनी की गड़बड़ियां सामने आई थीं। ई.डी. के मुताबिक एम.एस. सिनटैक्स इंडस्ट्री लिमिटेड नाम की यह कंपनी अमित पटेल और राहुल पटेल से संबंधित है।

इनका नाम पनामा पेपर्स घोटाला में सामने आया था। बताया गया था कि इनका ब्रिटिश वर्जिन आइसलैंड (बी.वी.आई.) की कंपनी एम.एस. एमरेंज में निवेश है। ई.डी. ने बताया कि जांच में पाया गया कि अहमदाबाद की इस कंपनी के अकाऊंट से बी.वी.आई. स्थित सहायक कंपनी के जरिए सिंगापुर में अचल सम्पत्ति खरीदी गई। आरोप है कि इसमें कानून का उल्लंघन हुआ और इसलिए यह कार्रवाई की गई। एजैंसी की ओर से जारी बयान के मुताबिक सिनटैक्स ने फेमा के सैक्शन 4 का उल्लंघन किया और 48.87 करोड़ रुपए की सम्पत्ति भारत से बाहर पहुंचा दी। इसलिए फेमा के कानून की धारा 37 ए के मुताबिक इसके बराबर मूल्य की सम्पत्ति भारत में जब्त कर ली गई है।

इस धारा में प्रावधान है कि अगर फेमा का उल्लंघन कर विदेश में सम्पत्ति खरीदी जाती है तो उस सम्पत्ति के मूल्य के बराबर की सम्पत्ति देश में जब्त कर ली जाएगी। ई.डी. आयकर विभाग के साथ पनामा पेपर्स में शामिल भारतीय नामों की जांच कर रही है। पिछले साल हुए इस खुलासे में 426 भारतीय और भारतीय मूल के लोगों के नाम सामने आए थे। अप्रैल, 2016 से सरकार की कई एजैंसियां बहु एजैंसी समूह बनाकर इसकी जांच कर रही हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You