शादी के लिए बैंकों से अगले सप्ताह मिलेंगे पैसे

  • शादी के लिए बैंकों से अगले सप्ताह मिलेंगे पैसे
You Are HereBusiness
Saturday, November 19, 2016-6:59 PM

नई दिल्लीः बैंकों से शादी-ब्याह के लिए ढाई लाख रुपए तक की नकदी निकासी अगले सप्ताह से शुरू हो सकती है। इस बारे में रिजर्व बैंक से संचालन संबंधी दिशानिर्देश प्राप्त होने के बाद अगले सप्ताह से अमल हो सकता है। हालांकि, केन्द्र सरकार ने इसी सप्ताह शादियों के लिए ढाई लाख रुपए देने के निर्देश जारी कर दिए थे।

क्या कहना है बैंकों का
पंजाब नैशनल बैंक की प्रबंध निदेशक उषा अनंत सुब्रमणियन ने कहा, ‘‘रिजर्व बैंक से संचालन संबंधी दिशानिर्देश नहीं मिलने की वजह से हम वर-वधू पक्ष के परिवार प्रत्येक को ढाई लाख रुपए नहीं दे पाए हैं। हम इस संबंध में रिजर्व बैंक से निर्देश की प्रतीक्षा कर रहे हैं।’’ अनंतसुब्रमणियम ने कहा, ‘‘हमें इस बारे में संचालन दिशानिर्देश सोमवार को मिलने की उम्मीद है और मंगलवार से बैंक शाखाएं शादियों के लिए नकदी का वितरण कर सकतीं हैं। हमें यह पता है कि यह राशि वर अथवा वधू खुद या फिर उनके माता-पिता में से कोई एक निकाल सकता है। वर और वधु दोनों के परिवार ढाई-ढाई लाख रुपए तक राशि की निकासी कर सकते हैं।’’ अन्य बैंक भी रिजर्व बैंक से निर्देश प्राप्त नहीं होने की वजह से यह सुविधा उपलब्ध नहीं करा पा रहे हैं।   

RBI से अब तक नहीं मिले निर्देश 
एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, ‘‘शादी के लिए राशि की निकासी रिजर्व बैंक की अधिसूचना के बाद ही की जा सकेगी। अधिसूचना में निकासी के बारे में विभिन्न प्रकार की औपचारिकताओं के बारे में निर्देश दिए जाएंगे, उसके बाद ही इस पर अमल हो सकेगा।’’ सरकार ने पिछले सप्ताह फैसला किया है कि जिन परिवारों में शादी है उन्हें अपने बैंक खातों से ढाई लाख रुपए नकद निकासी की अनुमति होगी। इसके साथ ही परिवारों को विभिन्न खर्चों के लिए चेक और डिजिटल माध्यम अपनाने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाएगा। सरकार की घोषणा के बाद से ही जिन परिवारों में शादी है वह बैंक शाखाओं में धन निकासी के लिए पहुंचने लगे लेकिन उन्हें यह कहते हुए खाली हाथ लौटा दिया गया कि रिजर्व बैंक अथवा उनके मुख्यालय से इस बारे में कोई भी निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है।  

पंजाब नैशनल बैंक के ए.टी.एम. के बारे में अनंत सुब्रमणियन ने कहा कि बैंक के कुल 9,000 ए.टी.एम. में से 2,000 मशीनों को नए नोटों के अनुरूप चालू कर दिया गया है। उनसे नए नोट जारी किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह कुछ और ए.टी.एम. को नए नोटों के अनुरूप ढाल दिया जाएगा जिससे स्थिति और सामान्य हो जाएगी।   बैंकों में सस्ती जमा पूंजी आने से ब्याज दरों में कमी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि बैंक स्थिति पर नजर रखे हुए हैं और संभवत: आज ही सावधि जमा दरों में कटौती की जा सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 8 नवंबर को 500 और 1,000 रुपए के नोट बंद करने की घोषणा के बाद से अब तक पंजाब नैशनल बैंक को 47,000 करोड़ रुपए की जमा प्राप्त हुई है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You