रियल एस्टेट में आम आदमी की बल्ले-बल्ले

  • रियल एस्टेट में आम आदमी की बल्ले-बल्ले
You Are HereProperty
Friday, November 11, 2016-2:16 PM

लखनऊः बड़े नोट बंद होने से रियल एस्टेट सेक्टर में सबसे अधिक फायदा उन आम उपभोक्ताओं को होगा, जो अपने लिए आशियाना तलाश रहे हैं। वरिष्ठ अर्थशास्त्री प्रो. हर्ष मोहन के मुताबिक, रियल एस्टेट सेक्टर में इतना काला धन लगा है कि इसके कारण फ्लैट और प्लॉट की कीमतें काल्पनिक तरीके से बढ़ी हैं। काला धन नहीं होगा तो इनकी असल कीमत सामने आएगी। इससे प्रॉपर्टी का रेट कम होना तय है। काली कमाई खपाने का सबसे आसान जरिया रियल एस्टेट है। आशंका जताई जा रही है कि इस सेक्टर में अरबों की काली कमाई लगी है। ज्यादा पैसा कमा चुके लोग फ्लैट और प्लॉट के लिए मुहमांगी कीमत अदा करने को तैयार रहते हैं।

काली कमाई हटने से रियल एस्टेट कंपनियों को सही कीमत पर फ्लैट और प्लॉट बेचना पड़ेगा। ऐसा न करने पर उनके प्रॉजेक्ट खाली रह जाएंगे। दो दिन में सुधर जाएगी घर की इकोनॉमी :प्रो. हर्ष मोहन के मुताबिक, अचानक हुए इस फैसले से हर घर की इकोनॉमी गड़बड़ा गई है, हालांकि यह दिक्कत दो दिन से ज्यादा नहीं रहेगी। बैंक खुलने और ए.टी.एम. चालू होने के बाद रोजमर्रा की जरूरतों भर पैसा आसानी से मिल जाएगा। इस बीच छुटपुट खरीददारी के लिए घर में बचाए पैसों का इस्तेमाल हो सकता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You