नोटबंदी का असरः 30% तक कम होंगी घरों की कीमतें

  • नोटबंदी का असरः 30% तक कम होंगी घरों की कीमतें
You Are HereTop News
Friday, November 25, 2016-12:40 PM

नई दिल्ली: सरकार के नोटबंदी के फैसले का चौतरफा असर देखने को मिल रहा है। बाजार के हर क्षेत्र पर इसका प्रभाव है। अर्थशास्त्रियों की मानें तो सरकार के इस फैसले का भविष्य में सकारात्मक असर देखने को मिलेगा। हालांकि, सबसे तेजी से रियल स्टेट बिजनैस पर इसका देखने को मिल सकता है।

देश के 42 शहरों में मकानों की कीमत 30 प्रतिशत तक कम हो सकती है। फर्म का कहना है कि इससे 2008 के बाद डिवैल्पर्स द्वारा बेची गई और अनबिकी आवासीय संपत्तियों का बाजार मूल्य 8 लाख करोड़ रुपए से भी अधिक घट जाएगा।

मुम्बई में आएगी सर्वाधिक गिरावट 
कुल मार्कीट वैल्यू में 2,00,330 करोड़ की सर्वाधिक गिरावट मुम्बई में आएगी। इसके बाद बेंगलूरू में 99,983 करोड़ और गुडग़ांव में 79,059 करोड़ की गिरावट आ सकती है। भारत में रियल एस्टेट सैक्टर का कुल मूल्य 39,55,044 करोड़ बताया जाता है। इसमें 8,02,874 करोड़ की कमी आने से यह 31,52,170 करोड़ का रह जाएगा।

सैकेंडरी मार्कीट ट्रांजैक्शन (रिसेल) में आएगी कमी 
प्रोइक्विटी के संस्थापक और सी.ई.ओ. समीर जसूजा ने कहा कि उम्मीद है कि सैकेंडरी मार्कीट ट्रांजैक्शन (रिसेल) में कमी आएगी। 5 में से सिर्फ 1 खरीदार होता है जो पूरी राशि चैक से देना चाहता है। लोग कम से कम 20.30 प्रतिशत कैश देना चाहते हैं, जो अब होना कठिन है। कम्पनी के मुताबिक शॉर्ट टाइम के लिए यह दुखदायी जरूर है लेकिन लंबे समय के लिए देखें तो इससे भारत में रियल स्टेट बाजार को फायदा होगा। पारदर्शिता में बढ़ौतरी होगी। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You