प्रॉपर्टी टैक्स वसूलने के लिए रिकवरी सेल बनाएगी BMC

  • प्रॉपर्टी टैक्स वसूलने के लिए रिकवरी सेल बनाएगी BMC
You Are HereBusiness
Friday, April 14, 2017-2:20 PM

मुंबई: बी.एम.सी. राजस्व बढ़ाने के लिए नए तरीकों के साथ वसूली तेज करने की तैयारी में है। प्रॉपर्टी टैक्स में टारगेट से काफी पीछे रहा प्रशासन जल्द ही इस मद में वसूली बढ़ाने की योजना बना रहा है। 'प्रॉपर्टी रिकवरी सेल' नाम से एक नया विभाग खोला जाएगा, जहां इससे बकाया टैक्स वसूलने के अभियान में तेजी आएगी। बता दें कि 11,000 करोड़ रुपए से अधिक का प्रॉपर्टी टैक्स अभी बकाया है, जिसे वसूलने में प्रशासन को सफलता नहीं मिल रही है। इस साल 5,205 करोड़ रुपए प्रॉपर्टी टैक्स वसूलने का लक्ष्य रखा गया है।

टैक्स में होगी बढ़ौतरी
एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हम इस पर विचार कर रहे हैं, यदि ऐसा कर पाए तो निश्चित तौर पर टैक्स ज्यादा इकट्ठा होगा। प्रॉपर्टी टैक्स के तमाम कोर्ट में गए मामलों के लिए भी एक लीगल सिस्टम तैयार करने का विचार है। जिससे, इस तरह के जल्द और आसानी से निपटारे में सहूलियत हो। पिछले साल 5,400 करोड़ रुपए के लक्ष्य के विपरीत प्रशासन ने 28 फरवरी तक केवल 3,629 करोड़ रुपए ही जमा किए थे। ऑक्ट्राय के काम में लगे 1,200 कर्मचारी 1 जुलाई से जी.एस.टी. आने के बाद प्रॉपर्टी टैक्स इत्यादि कामों में लगाए जाएंगे। बी.एम.सी. सभी प्रॉपर्टी का 360 डिग्री सर्वे कर प्रॉपर्टी टैक्स का दायरा भी बढ़ाना चाहते हैं। इसमें तीन डाइमेंशन सर्वे होगा। जिससे टैक्स में हो रही किसी भी प्रकार की लीकेज रोकने में भी मदद मिलेगी। इसका काम इस साल शुरू हो जाएगा।

क्या है प्रक्रिया
प्रॉपर्टी टैक्स न चुकाने पर नोटिस भेजी जाती है। इसके बाद फिर पानी कनेक्शन काट दिया जाता है। फिर भी पैसे न देने पर प्रॉपर्टी सीज कर दी जाती है। अंत में इसकी बोली लगाकर पैसे वसूले जाते है। प्रॉपर्टी टैक्स बढ़ाने के लिए बिल ई-मेल से भेजा जाना चाहिए। बिल कार्ड के जरिए भरने का भी ऑपशन होना चाहिए तांकि लोगों को लंबी-लंबी लाइनों में खड़े न होना पड़े।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You