शेयर बाजार में भारी गिरावट, सैंसेक्स 1688.69 अंक तक लुढ़का

  • शेयर बाजार में भारी गिरावट, सैंसेक्स 1688.69 अंक तक लुढ़का
You Are HereTop News
Wednesday, November 09, 2016-11:25 AM

मुंबई: सरकार के 500 और एक हजार रुपए के मौजूदा नोटों को आम इस्तेमाल के लिए तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित करने तथा अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव की मतगणना में रिपब्लिकन पार्टी के नेता डोनाल्ड ट्रंप के आगे चलने से विदेशी बाजारों में आई भारी गिरावट की दोहरी मार के दबाव में आज सैंसेक्स 1688.69 अंक तक लुढ़क गया।  सरकार के अचानक लिए गए नोटों पर प्रतिबंध के फैसले से प्रचलन में जारी कुल नोटों के मूल्य का 86 फीसदी से ज्यादा प्रचलन से बाहर हो गया। इससे तरलता का तात्कालिक संकट पैदा हो गया है। सैंसेक्स 1339.76 अंक लुढ़ककर 26,251.38 अंक पर खुला और तुरंत 1688.69 अंक की गिरावट के साथ 25,902.45 अंक तक उतर गया।

इस साल 25 मई के बाद यह पहला मौका है जब सेंसेक्स 26 हजार अंक के नीचे उतरा है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 476.05 अंक नीचे 8,067.50 अंक पर खुला और 541.30 अंक की गिरावट के साथ इस साल के 24 जून के बाद के कारोबार के दौरान के निचले स्तर 8002.25 अंक तक उतर गया। खबर लिखे जाने तक सैंसेक्स करीब एक हजार अंक (लगभग पौने चार फीसदी) तथा निफ्टी 300 अंक से ज्यादा (पौने चार फीसदी) की गिरावट में था।

सैंसेक्स की सभी 30 की 30 कंपनियां गिरावट में रहीं। अदानी पोर्ट्स के शेयर सर्वाधिक छह फीसदी से ज्यादा लुढ़के।  बीएसई का मिडकैप भी 5.46 प्रतिशत तथा स्मॉलकैप 6.03 प्रतिशत लुढ़क गए। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव की मतगणना के प्रभाव स्वरूप एशियाई शेयर बाजारों में जापान का निक्की चार फीसदी, हांगकांग का हैंगसेंग लगभग तीन फीसदी, दक्षिण कोरिया का कोस्पी पौने तीन फीसदी तथा चीन का शंघाई कंपोजिट सवा फीसदी से ज्यादा की गिरावट में रहा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You