आर्थिक आंकड़ों से मिलेगी बाजार को दिशा 

  • आर्थिक आंकड़ों से मिलेगी बाजार को दिशा 
You Are HereStock Market
Sunday, October 09, 2016-11:04 AM

मुंबईः घरेलू शेयर बाजारों में बीते सप्ताह एक प्रतिशत तक की तेजी के बाद आने वाले सप्ताह में इनकी चाल काफी हद तक महंगाई तथा औद्योगिक उत्पादन के आंकड़ों पर निर्भर करेगी। साथ ही इन पर विदेशी कारकों का असर भी रहेगा। अगले सप्ताह 10 अक्तूबर को औद्योगिक उत्पादन के अगस्त के आंकड़े जारी होने हैं। सितंबर के खुदरा महंगाई के आंकड़े 13 अक्तूबर को तथा थोक महंगाई के 14 अक्तूबर को जारी होने हैं। इन सबका असर बाजार पर दिखाई देगा। 

विश्लेषकों का कहना है कि सितंबर में खुदरा महंगाई की दर में कुछ तेजी देखी जा सकती है। इस बीच 11 अक्तूबर को दशहरा तथा 12 अक्तूबर को मुहर्रम की छुट्टी होने के कारण बाजार में 3 दिन ही कारोबार होगा। बीते सप्ताह 5 कारोबारी दिवसों में से पहले दो में बाजार में लिवाली का जोर रहा जबकि आखिरी 3 दिन में इनमें गिरावट रही। इसके बावजूद बी.एस.ई. का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सैंसेक्स 0.70 प्रतिशत यानी 195.18 अंक की तेजी के साथ 28,061.14 अंक पर तथा नैशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी एक फीसदी यानी 86.45 अंक चढ़कर 8,697.60 अंक पर बंद हुआ।   

आलोच्य सप्ताह में मझोली तथा छोटी कंपनियों के निवेशकों को जबरदस्त मुनाफा हुआ। बी.एस.ई. का मिडकैप 4.69 प्रतिशत तथा स्मॉलकैप 5.29 प्रतिशत की साप्ताहिक छलांग लगाकर सप्ताहांत पर क्रमश: 13,491.36 अंक तथा 12,511.33 अंक पर बंद हुए। रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) की चालू वित्त वर्ष की चौथी द्विमासिक समीक्षा के लिए मौद्रिक नीति समिति की दो दिवसीय बैठक सोमवार को शुरू हुई। सस्ते ऋण की उम्मीद में सोमवार को बाजार ने ऊंची छलांग लगाई। सैंसेक्स 377.33 अंक चढ़ गया। 

मंगलवार को आर.बी.आई. द्वारा नीतिगत दरों में 0.25 प्रतिशत की कटौती की घोषणा के बाद यह 91.26 अंक की बढ़त में बंद हुआ। बुधवार को बाजार में मुनाफावसूली रही। मझोली और छोटी कंपनियां जहां करीब आधा फीसदी की बढ़त में रहीं, वहीं पूरे दिन हरे निशान में रहने के बाद आखिरी दो घंटे में सैंसेक्स तेजी से लुढ़कता हुआ लाल निशान में चला गया। यह 113.57 अंक की गिरावट में बंद हुआ। अंतिम दो दिन बाजार में यूरोपीय शेयर बाजारों का दबाव दिखा। गुरुवार को 114.77 अंक फिसलने के बाद शुक्रवार को यह 45.07 अंक और गिरकर आखिरकार 28,061.14 अंक पर बंद हुआ। यूरोपीय तथा अन्य वैश्विक बाजारों की किसी बड़ी हलचल का असर आने वाले सप्ताह में भी घरेलू शेयर बाजारों पर दिख सकता है। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You