महंगाई से दीवाली का मजा किरकिरा, मिठाइयों के दाम बढ़े

You Are HereEconomy
Thursday, October 12, 2017-12:45 PM

नई दिल्लीः पटाखों पर पाबंदी, महंगी सब्जियों और मिठाइयों ने दीवाली के उल्लास को फीका कर दिया है। उच्चतम न्यायालय के दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के बाद बंबई उच्च न्यायालय ने भी मुंबई में ऐसा करने का आदेश दिया है। इससे पूरे देश में इस पाबंदी के पक्ष-विपक्ष में बहस तेज हो गई है।

चीनी की कीमतों में बढ़ौतरी
सब्जियों और मिठाइयों के आसमान छूते दामों ने भी दीवाली के जोश को ठंडा कर दिया है। इनकी कीमतों में करीब 35 फीसदी की बढ़ौतरी हुई है। कारोबारियों का दावा है कि चीनी की कीमत और मजदूरी बढ़ने से मिठाई के दाम बढ़े हैं जबकि देश के कई इलाकों में पिछले एक सप्ताह से रुक-रुक कर हो रही बारिश ने सब्जियों को महंगा कर दिया है। इस बार काजू कतली 800 रुपए प्रति किलो बिक रही है जो पिछले साल से 33 फीसदी अधिक है। इसी तरह लडडू 200 रुपए किलो और मलाई बर्फी 500 रुपए किलो के भाव बिक रही है जो पिछले साल से 25 फीसदी ज्यादा है। हालांकि मिठाइयों के दाम बढ़े हैं, उस अनुपात में कच्चे माल की कीमतों में बढ़ौतरी नहीं हुई है।
PunjabKesari
बारिश के कारण सब्जियां भी महंगी
उत्तर प्रदेश में मिलों ने अक्टूबर के दूसरे सप्ताह से गन्ने की पेराई का काम शुरू करने का वादा किया था लेकिन मॉनसून लौटने में देरी के कारण ऐसा करना बहुत मुश्किल है। महाराष्ट्र में भी कमोबेश यही स्थिति है। इसलिए अगले 3-4 हफ्ते तक चीनी की कीमतों में तेजी बरकरार रहने की संभावना है। दूसरी तरफ पिछले एक सप्ताह से हो रही बारिश के कारण सब्जियां महंगी हो रही हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You