अब मिस्त्री की टीसीएस से भी होगी छुट्टी, 13 दिसंबर को बुलाई गई ईजीएम

  • अब मिस्त्री की टीसीएस से भी होगी छुट्टी, 13 दिसंबर को बुलाई गई ईजीएम
You Are Herecompany
Friday, November 18, 2016-10:16 AM

नई दिल्लीः टाटा समूह की प्रमुख कंपनी टी.सी.एस. के चेयरमैन पद से सायरस मिस्त्री को हटाए जाने के कुछ दिनों बाद ही उन्हें निदेशक मंडल से निकालने की तैयारी हो गई है। मिस्त्री को निदेशक के पद से हटाने के लिए टीसीएस असाधारण आम बैठक (ई.जी.एम.) 13 दिसंबर को बुलाई गई है।इसका फैसला टीसीएस के बोर्ड की आज हुई बैठक में किया गया है। इस बैठक में मिस्त्री ने हिस्सा नहीं लिया। इसके बाद टाटा समूह की होल्डिंग कंपनी टाटा संस के बोर्ड की बैठक में भी मिस्त्री ने हिस्सा नहीं लिया।

नुसली वाडिया को हटाने पर भी होगा विचार
टाटा समूह के मुख्यालय बांबे हाउस में टीसीएस के बोर्ड की बैठक में हुए निर्णय के अनुसार ईजीएम में मिस्त्री को निदेशक पद से हटाने के प्रस्ताव पर विचार किया जाएगा। टीसीएस में टाटा संस की हिस्सेदारी 73.26 फीसदी है। टाटा समूह की दूसरी कंपनियों में भी इसी तरह मिस्त्री को हटाने की पहल की जा सकती है। टाटा केमिकल्स, इंडियन होटल्स कंपनी लि. और टाटा ग्लोबल बेवरेजेज पहले ही ईजीएम बुलाने का फैसला कर चुकी हैं। इनके एजेंडा में बांबे डाईंग के चेयरमैन नुसली वाडिया को भी हटाने का प्रस्ताव होगा। टीसीएस में निदेशक होने के बावजूद मिस्त्री ने गुरुवार की बोर्ड बैठक में हिस्सा नहीं लिया।

मिस्त्री ने बोर्ड की बैठक में भी हिस्सा नहीं लिया
टाटा संस की बोर्ड की बैठक में भी उन्होंने हिस्सा नहीं लिया। 24 अक्टूबर के बाद टाटा संस के बोर्ड की यह पहली बैठक थी। मिस्त्री को 24 अक्टूबर की बैठक में ही मिस्त्री को हटाने का फैसला किया गया था। टाटा संस की बैठक के बाद इसके डायरेक्टर विजय सिंह ने इसे रुटीन बैठक बताया। उनके अनुसार बैठक में कारोबार की समीक्षा की गई और अगले छह महीने के परिदृश्य की समीक्षा की गई। उन्होंने बताया कि मिस्त्री के अलावा दो अन्य डायरेक्टर फरीदा खंबाटा (जो अभी अमेरिका में हैं) और जे.एल.आर. के प्रमुख राल्फ स्पेथ ने भी टाटा संस की बैठक में हिस्सा नहीं लिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You