होम लोन लेना है तो चाहिए ये महत्वपूर्ण दस्तावेज

You Are HereBusiness
Saturday, July 08, 2017-2:34 PM

नई दिल्लीः घर के लिए बैंक से होम लोन पास करवाने से पहले सभी जरूरी दस्तावेज जुटाने आवश्यक होते हैं। यदि कोई जरूरी दस्तावेज आपके आवेदन के साथ नहीं लगा होगा तो आपका आवेदन रद्द भी हो सकता है। पेश है इसी संबंध में एक चैकलिस्ट यानी जरूरी दस्तावेजों की सूची-

सभी आवेदकों के लिए आम दस्तावेज 
आवेदन प्रपत्र: सही ढंग से भरा  गया हो।
PunjabKesari
पहचान के लिए दस्तावेज
ड्राइविंग लाइसैंस, आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आई.डी., पासपोर्ट, राशन कार्ड, आवेदक की फोटो को सत्यापित करते हुए किसी अधिकृत सरकारी अधिकारी या पत्र, आवेदक के एम्प्लॉयर या अन्य बैंक से की ओर से दिया गया स्वीकृति पत्र।

पते के लिए दस्तावेज 
ड्राइविंग लाइसैंस, आधार कार्ड, वोटर आई.डी., पासपोर्ट, राशन कार्ड, बैंक पासबुक, यूटिलिटी बिल्स (टैलीफोन, बिजली, पानी, गैस आदि का। जो दो महीने से अधिक पुराना न हो)।

आयु प्रमाणपत्र
बर्थ सर्टीफिकेट, या स्कूल/कॉलेज का प्रमाणपत्र जिस पर उम्र अंकित हो (खासकर दसवीं कक्षा का प्रमाणपत्र)।
PunjabKesari
आय प्रमाणपत्र
स्वरोजगार या व्यवसायी होने परः अपने कार्य या व्यवसाय का संक्षिप्त विवरण, बैलेंस शीट, अकाऊंट स्टेटमैंट, चार्टर्ड अकाऊंटैंट से सत्यापित पिछले तीन वर्षों के दौरान अदा किए गए आयकर के प्रमाण, फोटो, एडवांस्ड टैक्स की रसीद यदि हो तो, काम से संबंधित पंजीकरण दस्तावेज, प्रोफैशन टैक्स का दस्तावेज, बैंक लोन की रसीदें, निवेश के प्रमाण (फिक्स्ड डिपॉजिट, शेयर या अन्य अचल सम्पत्तियों के प्रमाण)।

नौकरी पेशा होने पर: आय का प्रमाण (हालिया पे स्लिप या फॉर्म 16), नियुक्ति पत्र, सैलरी अकाऊंट बैंक का स्टेटमैंट, एम्प्लॉयर की ओर से पत्र, आय कर रिटर्न के दस्तावेज, निवेश के प्रमाण, फोटो तथा किसी तरह के लोन या अचल सम्पत्ति का विवरण।
PunjabKesari
यदि बिल्डर से फ्लैट खरीद रहे हैं तो जरूरी दस्तावेज 
1. खरीदार तथा बिल्डर के बीच हुए करार के दस्तावेज की असली प्रति।
2. भूमि के मालिक तथा बिल्डर के मध्य हुए डिवैल्पमैंट करार की प्रति।
3. सम्पत्ति के मालिकाना हक के दस्तावेज।
4. अरबन लैंड सीलिंग एक्ट के तहत जारी आदेश की प्रति।
5. निर्माणाधीन परियोजना के संबंध में प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन कार्ड, जिसमें भूमि से  संबंधित प्रशासन की ओर से सर्वे नम्बर, क्षेत्रफल तथा जरूरी तारीखों की जानकारी दी जाती है।
6. खरीदार तथा बिल्डर के मध्य हुए करार का इंडैक्स 2 जो सब-रजिस्ट्रार की ओर से जारी होता है। जिसमें खरीदार तथा विक्रेता के नाम दिए गए होते हैं।
7. कलैक्टर की ओर से भूमि के प्रयोग संबंधी अनापत्ति प्रमाणपत्र। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You