बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए सरकार ने प्याज पर स्टॉक सीमा बढ़ाई

  • बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए सरकार ने प्याज पर स्टॉक सीमा बढ़ाई
You Are HereBusiness
Tuesday, October 17, 2017-11:30 AM

नई दिल्लीः प्याज की बढ़ती कीमतों पर अंकुश लगाने के ध्येय से सरकार ने प्याज पर स्टॉक सीमा की अवधि दिसंबर तक बढ़ा दी है। खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान ने कहा कि सरकार ने एक तय सीमा से अधिक प्याज का स्टॉक रखने पर प्रतिबंध की अवधि को तीन माह बढ़ाकर दिसंबर 2017 तक कर दिया है। राज्यों को व्यापारियों पर प्याज का स्टॉक रखने की सीमा को तय करने और एक सीमा से अधिक इसकी जमाखोरी पर प्रतिबंध लगाने का पहले जारी आदेश 31 अक्तूबर को समाप्त होने वाला था।

सरकारी आंकड़ों के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी  में प्याज की खुदरा कीमत 50 रुपए किलो तक पहुंच गए हैं। दूसरे महानगरों में यह कीमत 30 से 40 रुपए किलो के दायरे में है। पासवान ने ट्वीट किया, ‘‘प्याज की जमाखोरी रोकने के लिए प्याज का स्टॉक रखने की तयशुदा सीमा को 31 अक्तूबर 2017 से बढ़ाकर 31 दिसंबर 2017 किया गया है।’’ उन्होंने कहा कि राज्यों से अनुरोध किया गया है कि त्यौहारों के दौरान उपभोक्ताओं को उपयुक्त दर पर प्याज की उपलब्धता को सुनिश्चित कराएं।

सीमित आपूर्ति के कारण थोक और खुदरा दोनों ही बाजारों में प्याज की कीमतों में भारी वृद्धि को देखते हुए इसका तय स्टॉक रखने की समयसीमा का आगे विस्तार किया गया है। कृषि मंत्रालय ने फसल वर्ष 2016-17 (जुलाई से जून) में प्याज उत्पादन 5.8 प्रतिशत घटकर 197.13 लाख टन रहने का अनुमान जताया है जो उत्पादन इसके पिछले वर्ष 209.31 लाख टन हुआ था।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You