इंटरनैट पर अनचाहे वीडियो ऐड पर ट्राई की नजर

  • इंटरनैट पर अनचाहे वीडियो ऐड पर ट्राई की नजर
You Are Herecompany
Monday, October 17, 2016-12:09 PM

नई दिल्लीः भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) इस महीने उद्योग विशेषज्ञों के साथ अनचाहे ऑनलाइन वीडियो विज्ञापनों के मुद्दे पर सत्र का आयोजन करेगा। इस तरह के विज्ञापन उपभोक्ता की जानकारी के बिना आटो डाऊनलोड हो जाते हैं, जिससे उपभोक्ता की डेटा लागत बढ़ जाती है।

अधिकारियों ने बताया कि हैदराबाद में 24 अक्तूबर को इस बारे में ट्राई द्वारा संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है जिसमें नियामक गहराई से इस मुद्दे की समीक्षा करेगा और देखेगा कि क्या इस तरह के डाऊनलोड के नियमन की जरूरत है। एक अधिकारी ने कहा कि कुछ साइटों के अलावा सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर इस तरह के अनचाहे विज्ञापन उपभोक्ता की जानकारी के बिना डाऊनलोड हो जाते हैं, जिससे डेटा की खपत होती है क्योंकि डेटा का इस्तेमाल में पारदर्शिता नहीं होती।

अधिकारियों ने स्पष्ट किया कि यह मुद्दा सामग्री या कंटेंट के नियमन का नहीं है। ट्राई इन ऑनलाइन विज्ञापनों के कंटेंट की जांच नहीं करेगा। अधिकारी ने कहा, 'यह डेटा का इस्तेमाल गैर पारदर्शी तरीके से होने के बारे में है। 20 से 30 पैसे प्रति एमबी के हिसाब से डेटा महंगा है। इस मुद्दे की समीक्षा करने की जरूरत है।’    


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You