टू-व्‍हीलर की सेल पड़ी सुस्‍त, 20-25 फीसदी तक आई डिमांड में गिरावट

  • टू-व्‍हीलर की सेल पड़ी सुस्‍त, 20-25 फीसदी तक आई डिमांड में गिरावट
You Are Herecompany
Monday, November 14, 2016-11:31 AM

नई दि‍ल्‍लीः सरकार की ओर से अचानक 500 रुपए और 1000 रुपए के नोटों को बंद करने से कई इंडस्‍ट्रीस का कारोबार ठप हो गया है। नोट बंद होने से टू-व्‍हीलर मार्कीट पर भी असर दि‍खाई दे रहा है। कंपनि‍यों और डीलर्स के मुताबि‍क, पि‍छले दो दि‍नों के दौरान 30 फीसदी तक कारोबार कम हो गया है। टू-व्‍हीलर की ज्‍यादातर सेल रूरल मार्कीट से होती है और यहां अधि‍कांश तौर पर कैश में पेमेंट कि‍या जाता है।

होंडा टू-व्‍हीलर्स के एक वरि‍ष्‍ठ अधि‍कारी ने बताया कि‍ पि‍छले दो दि‍न से देश भर में सेल सुस्‍त पड़ी है। औसत दि‍नों की तुलना में करीब 20 से 25 फीसदी तक सेल प्रभावि‍त हुई है। खासतौर पर रूरल मार्कीट में डि‍मांड कम हुई है क्‍योंकि‍ यहां ज्‍यादातर पेमेंट कैश में कि‍या जाता है। उनके मुताबि‍क, कुछ दि‍नों तक यह स्‍थि‍ति‍ बनी रहेगी।

डीलर्स के मुताबि‍क, रूरल मार्कीट में खरीदे जाने वाले टोटल टू-व्‍हीलर्स में 35 फीसदी से 40 फीसदी हि‍स्‍सा फाइनेंस का है। बाकी खरीदे गए टू-व्‍हीलर्स का कैश ट्रांजैक्‍शन कि‍या जाता है। उनका कहना है कि ज्‍यादातर लोगों ने नए व्‍हीकलों को खरीदने का फैसला टाल दि‍या। एक बार करंसी की स्‍थि‍ति‍ नॉर्मल होने के बाद लोग दोबारा खरीदारी करेंगे।

टू-व्‍हीलर्स कंपनि‍यां जैसे हीरो मोटोकॉर्प, होंडा और बजाज आदि‍ की 50 से 60 फीसदी तक की सेल रूरल मार्कीट से ही होती है। ऐसे में नोटों के बंद कि‍ए जाने से इस मार्कीट पर सबसे ज्‍यादा इम्‍पैक्‍ट नजर आएगा। ऑटो एक्‍सपर्ट्स का कहना है कि‍ 500 रुपए और 1000 रुपए के नोटो को बंद कि‍ए जाने से टू-व्‍हीलर्स की सेल कम रह सकती है। कैश की कमी के कारण लोगों ने नए व्‍हीलर्स से दूरी अपनाई हुई है।   
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You