विप्रो का मुनाफा 6% बढ़कर 2190 करोड़ हुआ

  • विप्रो का मुनाफा 6% बढ़कर 2190 करोड़ हुआ
You Are HereResults Company
Tuesday, October 17, 2017-7:11 PM

नई दिल्लीः भारत की तीसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सेवा कंपनी विप्रो का दूसरी तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ मामूली तौर पर घटकर 2,143.2 करोड़ रुपए रहा । इससे पिछले वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में इसका शुद्ध लाभ 2,163.6 करोड़ रुपए था।  बंबई शेयर बाजार को दी सूचना में कंपनी ने बताया है कि समीक्षावधि में कंपनी की कुल आय 1.8 प्रतिशत घट कर 14,134.8 करोड़ रुपए रही है जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 14,407.3 करोड़ रुपए थी। कंपनी ने भारतीय लेखा मानकों के अनुसार ये परिणाम जारी किए हैं।

कंपनी के कारोबार में महत्वपूर्ण हिस्सेदारी रखने वाले आईटी सेवा श्रेणी से कंपनी की आय 2.013 अरब डॉलर रही है जो पिछले साल की तुलना में 2.1त्न अधिक है।  यह कंपनी के राजस्व दायरे 196. 2 करोड़ डॉलर से 200.1 करोड़ डॉलर से अधिक है।  कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अब्दाली जेड. नीमचवाला ने कहा कि आईटी सेवाओं से आय के मामले में हमने 2 अरब डॉलर के मानक को पूरा किया है। यह हमारी रणनीति को सफल तौर पर लागू करने का परिणाम है।

अक्तूबर-दिसंबर 2017 की तिमाही के लिए कंपनी को आई.टी. सेवा कारोबार से 201.4 करोड़ डॉलर से लेकर 205.4 करोड़ डॉलर तक की आय होने की उम्मीद है। समीक्षावधि में आईटी उत्पाद श्रेणी से कंपनी की आय 300 करोड़ रुपए रही है। कंपनी ने कहा कि दूसरी तिमाही में उसके कर्मचारियों की संख्या 1,63,759 रही जो इससे पिछली तिमाही में 1,66,790 थी। बारह महीनों के आधार पर कंपनी से नौकरी छोड़कर जाने वालों का प्रतिशत 15.7 रहा है। 
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You