शेयर बाजार में उछाल, निफ्टी फिर हुआ दस हजारी

  • शेयर बाजार में उछाल, निफ्टी फिर हुआ दस हजारी
You Are HereStock Market
Tuesday, October 10, 2017-5:24 PM

मुंबई: वैश्विक बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच रिलायंस और इंफोसिस जैसी दिग्गज कंपनियों के साथ बैंकिंग शेयरों में हुई लिवाली से बीएसई का सेंसेक्स 77.52 अंक चढ़कर करीब तीन सप्ताह के उच्चतम स्तर 31,924.41 अंक पर पहुंच गया।  नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 28.20 अंक की तेजी में 10,016.95 अंक पर रहा। घरेलू शेयर बाजारों में लगातार तीसरे कारोबारी दिवस बढ़त रही है और दोनों सूचकांकों का यह 21 सितंबर के बाद का उच्चतम स्तर है। 

अधिकतर एशियाई बाजारों के हरे निशान में रहने से सेंसेक्स की शुरुआत मजबूत हुई। यह 63.93 अंक चढ़कर 31,910.82 अंक पर खुला और पूरे दिन हरे निशान में रहा। कारोबार के दौरान एक समय यह 32 हजार अंक के करीब 31,994.77 अंक पर भी पहुंचने में कामयाब रहा। हालांकि, आईसीआईसीआई बैंक, टाटा स्टील और ङ्क्षहदुस्तान यूनिलिवर के शेयरों में बिकवाली के दबाव में 31,896.90 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.24 प्रतिशत यानी 77.52 अंक ऊपर 31,924.41 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी 24.95 अंक की बढ़त के साथ 10,013.70 अंक पर खुला। 

-कारोबार के दौरान 10,034 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,002.30 अंक के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस के मुकाबले 0.28 प्रतिशत यानी 28.20 अंक चढ़कर 10,016.95 अंक पर बंद हुआ।  

-बीएसई में कुल 2,846 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,589 हरे और 1,136 लाल निशान में रहीं। अन्य 121 कंपनियों के शेयरों के दाम उतार-चढ़ाव से होते हुए अंतत: अपरिवर्तित रहे। 

-मझौली और छोटी कंपनियों में भी निवेशकों का विश्वास दिखा। बीएसई का मिडकैप 0.64 प्रतिशत और स्मॉलकैप 0.95 प्रतिशत की बढ़त में क्रमश: 15,935.68 अंक और 16,892.50 अंक पर पहुंच गया। 

वैश्विक स्तर पर अधिकतर एशियाई बाजारों में तेजी रही
-चीन का शंघाई कंपोजिट 0.27 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 0.58 प्रतिशत, जापान का निक्की 0.64 प्रतिशत और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.64 प्रतिशत की बढ़त में रहा। 

-अधिकतर यूरोपीय बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट रही। जर्मनी का डैक्स 0.15 प्रतिशत फिसल गया जबकि ब्रिटेन का एफटीएसई 0.30 प्रतिशत की बढ़त में रहा।  

-बीएसई के समूहों में रियलिटी की 0.97 प्रतिशत और एफएमसीजी की 0.24 प्रतिशत की गिरावट को छोड़कर अन्य 18 समूह बढ़त में रहे। -सबसे ज्यादा 0.98 प्रतिशत की तेजी यूटिलिटीज में रही। एनर्जी समूह का सूचकांक 0.86 प्रतिशत और पावर का 0.85 प्रतिशत की बढ़त में रहा। सेंसेक्स की 30 में से 19 कंपनियों के शेयरों में तेजी और 10 में गिरावट रही जबकि विप्रो के शेयर अपरिवर्तित बंद हुये। ल्युपिन में सर्वाधिक 1.99 प्रतिशत की बढ़त रही। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You