रिश्वत मामला: CBI ने चारों आरोपियों के खिलाफ दायर की चार्जशीट

  • रिश्वत मामला: CBI ने चारों आरोपियों के खिलाफ दायर की चार्जशीट
You Are HereChandigarh
Thursday, December 07, 2017-10:18 PM

चंडीगढ़, (संदीप कुमार): ढेड लाख रुपए की रिश्वत लेकर मिनरल वाटर बनाने वाली कंपनी को एन.ओ.सी. जारी करने के मामले में सभी 4 आरोपियों के खिलाफ सी.बी.आई. की विशेष अदालत में सी.बी.आई. ने चार्जशीट दायर कर दी है। सी.बी.आई. ने अदालत में करीब 200 पेज की चार्जशीट दायर की है, जिसमें सी.बी.आई. ने 45 गवाह बनाए हैं।

सी.बी.आई. ने इस मामले में भूजल विभाग के साइंटिस्ट ‘बी’ संजय पांडे, इमटैक के टैक्निशियन चंद्र प्रकाश मिड्ढा के भ्रष्टाचार की धारा 7,12,13 (1) (डी), 13 (2) और आई.पी.सी. 120बी के तहत चार्जशीट दायर की है, जबकि दिनेश ओर स्वराज के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा-12 और आई.पी.सी.-120बी के तहत चार्जशीट दायर की है।

 उल्लेखनीय है कि सी.बी.आई. ने 10 अक्तूबर को डेढ़ लाख रुपए रिश्वत लेते भूजल विभाग के साइंटिस्ट ‘बी’ संजय पांडे और इम्टैक के टैक्निशियन चंद्र प्रकाश मिड्ढा को गिरफ्तार किया था। वहीं रिश्वत देने आए दिनेश कुमार को भी गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद रिश्वत देने वाली कंपनी के डायरैक्टर स्वराज कंडोई को दो दिन बाद गिरफ्तार किया गया था।

 वहीं इस मामले में दिनेश  ने सी.बी.आई. अदालत में जमानत के लिए याचिका दायर की है। अदालत ने याचिका पर सी.बी.आई. को 12 दिसंबर के लिए नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने को कहा है।

 याचिका में दिनेश ने खुद को झूठा फंसाने की बात कही है। साथ ही कहा है कि उसे जेल में करीब 2 माह होने वाले हैं। अब सी.बी.आई. को उससे पूछताछ भी नहीं करनी है और न ही कोई रिकवरी करनी है। ऐसे में उसे जमानत का लाभ दिया जाए। दिनेश को सी.बी.आई. ने पांडे और मिड्ढा को रिश्वत देने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You