पवन बंसल ने CHB के फैसले पर गहरी निराशा जताई

  • पवन बंसल ने CHB के फैसले पर गहरी निराशा जताई
You Are HereChandigarh
Thursday, December 07, 2017-11:47 PM

चंडीगढ़, (राय): प्रधानमंत्री आवास योजना (पी.एम.ए.वाई.)-‘सभी के लिए आवास’ के तहत कोई घर न बनाने संबंधी चंडीगढ़ हाऊसिंग बोर्ड के फैसले पर कड़ी निराशा जताते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री और शहर के पूर्व सांसद पवन कुमार बंसल ने कहा कि ये फैसला एक अनुचित और कठोर फैसला है। उन्होंने कहा कि ऐसे सी.एच.बी. अपने मूल दायित्व से पीछे हट रहा है और ये फैसला एक गलत नीति को दर्शाता है।

प्रशासन की कड़ी आलोचना करते हुए बंसल ने कहा कि यह कैसे संभव है कि 1 लाख 21 हजार सात हजार आवेदकों में से, सी.एच.बी. को इस योजना के लिए सिर्फ 450 लोग ही पात्र मिले हैं। इस सर्वेक्षण पर संदेह करने के कई कारण है कि आखिर कैसे कुल आवेदकों में से सिर्फ 0.3 प्रतिशत ही इस योजना के लिए पात्र पाए गए हैं।

 क्या आप इसी तरह से सभी के लिए आवास योजना को लागू करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि पी.एम.ए.ई. के इस तरह के अनुचित और घटिया क्रियान्वयन को देखकर काफी निराशा होती है जबकि सरकार ने अपनी इस योजना की घोषणा बेहद जोर-शोर से की थी जबकि जमीनी स्तर पर यह नाकाम है।

अधिकारियों ने ई.डब्ल्यू.एस., एल.आई.जी., एम.आई.जी., एच.आई.वी. लोगों के लिए नए फ्लैटों का निर्माण करने का वायदा किया है और अब अचानक हजारों लोगों का अपने घर का सपना बुरी तरह से तोड़ दिया है। पूर्व सांसद ने कहा कि बेहतर होगा कि 1,27,000 आवेदनों का दोबारा से मूल्यांकन और उनके लिए घर बनाए जाएं, जिसकी उनको सख्त जरूरत है। लोग बार-बार बिजली के झटके देने की इस इलाज प्रक्रिया से थक गए हैं और सरकार लगातार अपने किए गए वायदों से मुकर रही है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You