गरीबों के लिए शुरू की स्कीम, अब करनी पड़ रही है बंद; जानें वजह

  • गरीबों के लिए शुरू की स्कीम, अब करनी पड़ रही है बंद; जानें वजह
You Are HereChandigarh
Thursday, September 14, 2017-4:44 PM

डेराबस्सी : पंजाब सरकार के दिशा-निर्देशों के साथ जिला प्रशासन की ओर से राम मंदिर में शुरू की गई 'सांझी रसोई' की सहूलियत को लोगों का व्यापक प्रतिक्रिया मिल रही है। 10 रुपए में सस्ता और ताज़ा खाना खाने वालों की गिनती रोज़ाना बढ़ती जा रही है। आलम ये है कि मज़दूरों के साथ आस पास के दूकानवाले और संस्थानों में तैनात प्राइवेट कर्मचारी भी इस सहूलियत के साथ रोज़ जुड़ रहे हैं। ये प्रोजेक्ट शहर की सब से पुरानी संस्था सनातन धर्म सभा ने शुरू की। सभा की ओर से खाने के लिए मंदिर काम्प्लेक्स में जगह देने और बिजली पानी सेवा के अलावा खाना तैयार करने से परोसने तक मैन पावर मुहैया कराई गई है। 

सनातन धर्म सभा के प्रधान सुशिल व्यास ने बताया कि पहले ही दिन 200 से भी ज़्यादा खाने की थाली लगाई गई, जबकि कई लोगों को पैकेट में खाना सप्लाई किया गया। कुछ दिन बाद पैकेट बंद खाने की मांग ज़्यादा बढ़ गई, जिसके चलते मौके पर थाली में खाना खाने वाले लोगों को निराश वापिस लौटना पड़ा। ऐसे में अब पैकिंग व्यवस्था को बंद करने का फैसला लिया गया है। उन्होंने बताया कि संस्था के सारे मेम्बरों की हरतरफ ड्यूटी लगाई गई है और सब का मकसद है कि प्रशासन की निगरानी में शुरू की गई सहूलियत का लाभ गरीबों तक पहुंच सके। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You