दो और मरीजों में हुई स्वाइन फ्लू की पुष्टि, महिला डाक्टर भी शामिल

  • दो और मरीजों में हुई स्वाइन फ्लू की पुष्टि, महिला डाक्टर भी शामिल
You Are HereChandigarh
Sunday, August 13, 2017-9:45 AM

चंडीगढ़ (पाल): पी.जी.आई. डाक्टर्स के बाद अब जी.एम.सी.एच.-32 के डाक्टर में भी स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है। शनिवार को स्वास्थ्य विभाग ने दो और नए मरीज कंफर्म किए हैं जिसमें जी.एम.सी.एच.-32 की 27 वर्षीय डाक्टर भी शमिल है। डाक्टर को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। साथ ही 52 वर्षीय एक पुरुष भी एन1एच1 वायरस की  चपेट में आया है। मरीज सैक्टर-30 का रहने वाला बताया जा रहा है। अभी तक शहर में स्वाइन फ्लू मरीजों की कुल संख्या 30 हो चुकी है। इनमें से 9 डाक्टर्स, नर्स व उनके परिजनों को स्वाइन फ्लू हो चुका है। पी.जी.आई. में अब तक 3 नर्स व उनके 2 बच्चों के साथ ही 3 डाक्टर को स्वाइन फ्लू हो चुका है। 

हालांकि जी.एम.सी.एच.-32 में डाक्टर के स्वाइन फ्लू का यह पहला केस है। पिछले 5 दिन से जी.एम.सी.एच. में डाक्टर्स को स्वाइन फ्लू से बचाने वाली किट भी खत्म हो चुकी है। हैल्थ विभाग की मानें तो वह किट्स की कमी जल्द पूरा कर देंगे, लेकिन मरीजों की इतनी तादाद होने के बावजूद न सिर्फ मरीजों की किट बल्कि उनका इलाज कर रहे डाक्टरों की जान से भी लापरवाही की जा रही है। पी.जी.आई. में डाक्टरों को स्वाइन फ्लू होने के बाद प्रशासन पूरा ध्यान दे रहा है कि मरीजों के साथ डाक्टरों को वक्त से पहले ही वैक्सीन दे दी जाए। इसके लिए हैल्थ विभाग ने सभी गवर्नमैंट व प्राइवेट अस्पतालों को निर्देश भी दिए हैं। इसके बावजूद जी.एम.सी.एच.-32 में दवाओं के स्टाक पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। 

 

 

कुल संख्या हुई 30 
शहर में स्वाइन फ्लू मरीजों की कुल संख्या 30 तक पहुंच चुकी है। मलेरिया विभाग के नोडल ऑफिसर डा. गौरव अग्रवाल  की माने तो कुछ दिन पहले पी.जी.आई. में दो नवजात ब४चों में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई थी लेकिन जांच में पाया गया कि उनमें से एक बच्चा बाहरी राज्य का है। फिलहाल शहर में कुल मरीजों की संख्या 30 है जबकि अब तक इस वायरस से 5 लोगों की मौत हो चुकी है। 

 

पी.जी.आई. में बनाया अलग से वार्ड
स्वाइन फ्लू मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पी.जी.आई. नेहरू अस्पताल के सी.डी. वार्ड में मरीजों के लिए वार्ड में अलग से एक और वार्ड बनाया किया है। सी.डी. वार्ड में करीब 13 बैड की व्यवस्था है। 5 बैड और बढ़ाए गए हैं। इससे पहले एडवांस पैडएट्रिक विभाग में बच्चों के लिए भी अलग से सी.डी. वार्ड बनाया गया है। इसमें दो बच्चों को एडमिट किया गया है जिनकी पुष्टि वीरवार को हुई थी। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You