करवाचौथ का चांद लगा सकता है कलंक का दाग!

  • करवाचौथ का चांद लगा सकता है कलंक का दाग!
You Are HereCuriosity
Wednesday, October 19, 2016-2:40 PM

भारतीय महिलाओं की आस्था, परंपरा, धार्मिकता, अपने पति के लिये प्यार, सम्मान, समर्पण करवाचौथ व्रत में काफी हद तक निहित है। इस व्रत को लेकर सुहागनों में काफी उत्साह रहता है। इस दिन का इतंजार सुहागने बड़ी ही बेसब्री से करती हैं और अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं। करवा चौथ की रात सुहागनें चांद निकलने के लिए आसमान की ओर आंखें जमाए रहती हैं। कब चांद निकले और कब वे व्रत को खोलें। 

 

रात को जब चांद निकलता है तो भगवान शिव-पार्वती व श्री गणेश का ध्यान करते हुए चंद्रमा को छलनी की ओट से देख कर पति का चेहरा देखा जाता है। तब सुहागन महिलाएं चंद्रमा को अर्ध्य देती हैं और पति उन्हें पानी पिलाकर उनका व्रत सम्पूर्ण करते हैं। 


चंद्रमा को अर्ध्य देते समय बोलें ये मंत्र
पीर धड़ी पेर कड़ी, अर्क देंदी सर्व सुहागिन चौबारे खड़ी।

तत्पश्चात सुहागिनें भोजन ग्रहण करती हैं। इस तरह करवा चौथ का व्रत पूर्ण होता है। 


चंद्रमा की पूजा का महत्व
छांदोग्य उपनिषद् के अनुसार, जो चंद्रमा में पुरुष रूपी ब्रह्मा की उपासना करता है उसके सारे पाप नष्ट हो जाते हैं। उसे जीवन में किसी प्रकार का कष्ट नहीं होता। उसे लंबी और पूर्ण आयु की प्राप्ति होती है। मान्यता है कि जिन दंपत्तियों के बीच छोटी-छोटी बात को लेकर अनबन रहती है, करवाचौथ व्रत से आपसी मनमुटाव दूर होता है। 

 

ज्योतिष शास्त्रियों के अनुसार करवाचौथ की तिथि और कलंक का अहम संबंध है

* चतुर्थी तिथि को रिक्ता और खला कहते हैं।


* शुभ काम नहीं किए जाते।


* चन्द्र दर्शन करने से अपकीर्ति, मानहानि और बदनामी हो सकती है।

 

ध्यान रखें
इस तिथि पर चन्द्र दर्शन करने की मनाही है। गणेश जी का पूजन करके चन्द्र देव को 
नीची निगाह करके अर्घ्य दें। लोक मान्यता के अनुसार ऐसा करने से कलंक का दोष नष्ट हो जाता है। तभी तो करवाचौथ पर चन्द्रमा को सीधी आंखों से न देखकर छन्नी या परछाईं में देखा जाता है।

 

चतुर्थी पर न लगे कलंक का दाग करें उपाय

* गणेश जी को शुद्ध घी का दीपक अर्पित करें।

* मोदक का भोग लगाएं।

* "वक्रतुण्डाय हुं" मंत्र का 108 बार जाप करें।

* जल में सफेद फूल डालें, आंखे नीची करके चन्द्रमा को अर्घ्य दें। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You