आज का गुडलक: शादी में आ रही बाधाओं का होगा अंत तुरंत

You Are HereDharm
Thursday, November 23, 2017-7:12 AM

आज गुरुवार दी॰ 23.11.17 मार्गशीर्ष शुक्ल पंचमी को विवाह पंचमी पर्व मनाया जाएगा। पौराणिक मतानुसार इस तिथि को श्रीराम व जनक नंदिनी सीता का विवाह हुआ था। श्रीरामचरितमानस में गोस्वामी तुलसीदास जी के अनुसार राजा जनक ने सीता के विवाह हेतु स्वयंवर रचाया। सीता के स्वयंवर में आए सभी राज्य परतिनिधि जब शिव धनुष नहीं उठा सकें, तब श्रीराम ने ऋषि विश्वामित्र की आज्ञा से शिवजी का धनुष तोड़ कर राजा जनक का संताप मिटाया। इसके पश्चात माता सीता ने श्रीराम को जयमाला पहनाकर श्रीराम को अपना वर चुना। श्रीरामचरितमानस में ऐसा वर्णन है की इस मौके पर सभी देवगणों ने आकाश से पुष्प वर्षा कर सीताराम का अभिवादन किया। राम-सीता के शुभ विवाह के कारण ही यह दिन अत्यंत पवित्र माना गया है। विवाह पंचमी का दिन शादी ब्याह मंगनी और रोके के लिए विशेष मुहूर्त माना जाता है। इस दिन सीता-राम के विशेष पूजन उपाय व अनुष्ठान से सुंदर जीवनसाथी प्राप्त होता है, विवाह में आ रही बाधा समाप्त होती है तथा अविवाहितों का शीघ्र विवाह होता है।

 
विशेष पूजन विधि: श्री रामदरबार का विधिवत दोषोपचार पूजन करें। गौघृत में हल्दी मिलाकर दीप करें, चंदन की धूप करें। हल्दी व सिंदूर चढ़ाएं। पीले फूल चढ़ाएं, गुड-चना का भोग लगाएं तथा पीत चंदन की माला से इस विशेष मंत्र का 1 माला जाप करें। पूजन के बाद भोग प्रसाद रूप में वितरित करें। 


पूजन मुहूर्त: दिन 11:26 से दिन 12:26 तक है। 


पूजन मंत्र: ॐ जानकीवल्लभाय नमः ॥

 

आज का शुशाशुभ
आज का अभिजीत मुहूर्त:
दिन 11:46 से दिन 12:28 तक।
आज का अमृत काल: रात 02:50 से प्रातः 04:38 तक।
आज का राहु काल: दिन 13:25 से दिन 14:44 तक। 
आज का गुलिक काल: प्रातः 09:30 से प्रातः 10:49 तक।
आज का यमगंड काल: प्रातः 06:54 से प्रातः 08:12 तक।


यात्रा मुहूर्त: आज दिशाशूल दक्षिण व राहुकाल वास दक्षिण में है। अतः दक्षिण दिशा की यात्रा टालें।


आज का गुडलक ज्ञान
आज का गुडलक कलर:
पीला।
आज का गुडलक दिशा: ईशान।
आज का गुडलक मंत्र: ॐ रामोत्तमायै नमः॥
आज का गुडलक टाइम: शाम 15:50 से शाम 16:50 तक।


आज का बर्थडे गुडलक: शीघ्र विवाह हेतु श्रीराम-सीता पर चढ़ी साबुत हल्दी पीले कपड़े में बांधकर बेडरूम में रखें।   


आज का एनिवर्सरी गुडलक: शादी में आ रही बाधा दूर करने हेतु श्रीराम-सीता पर चढ़े केसर से नित्य तिलक करें।


गुडलक महागुरु का महा टोटका: सुंदर जीवनसाथी पाने हेतु श्रीराम-सीता पर 43 दिन लगातार आलता चढ़ाएं।

 

आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com

Edited by:Aacharya Kamal Nandlal
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You