जब काम बनते-बनते रह जाते हों तो...

  • जब काम बनते-बनते रह जाते हों तो...
You Are HereJyotish
Saturday, August 24, 2013-10:39 AM

प्रत्येक व्यक्ति अपना हर काम अपने सुविधा के अनुरूप ही करता है परंतु ऐसे भी कुछ लोग होते हैं जो बिना शुभ मुहूर्त के कोई काम नहीं करते। इसी संदर्भ में ॠषि-महर्षि, मुनियों और ज्योतिष भी प्रत्येक काम मुहूर्त के अनुसार करने की सलाह देते हैं। इससे काम के पूर्ण रूप से संपन्न हो जाने की ज्यादा संभावना बनी रहती है।


अगर देखें तो कोई भी दिन बुरा नहीं होता। हमारे सितारों का असर ही दिन को अच्छा या बुरा बनाता है। ऐसे में मन में किसी तरह की शंका हो और आप किसी बड़े या शुभ काम के लिए घर से बाहर निकल रहे हों तो कुछ ऐसा आजमा सकते हैं, जो आपके दिन को शुभ बनाने में आपकी पूरी मदद करेगा।

हर दिन शुभ और कल्याणकारी होता है लेकिन हमारे सितारे अगर अनुकूल ना हो तो प्रतिकूल असर करता है। यदि आप ग्रहों के अशुभ योग से परेशान हैं और उनके प्रभाव से आपके हर शुभ कार्य में बाधा आती हो। काम बनते-बनते रह जाते हो तो यह चमत्कारी उपाय एक बार अवश्य करें। इन उपायों से दिन की प्रतिकूलता, अनुकूलता में परिवर्तित हो जाती है।

* रविवार को पान का पत्ता साथ रखकर जाएं।

* सोमवार को दर्पण में अपना चेहरा देखकर जाएं।

* मंगलवार को मिष्ठान खाकर जाएं।

* बुधवार को हरे धनिये के पत्ते खाकर जाएं।

* गुरुवार को सरसों के कुछ दाने मुख में डालकर जाएं।

* शुक्रवार को दही खाकर जाएं।

* शनिवार को अदरक और घी खाकर जाना चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You