वस्त्र बचाते हैं बुरी नजर व ऊपरी बाधाओं से

  • वस्त्र बचाते हैं बुरी नजर व ऊपरी बाधाओं से
You Are HereDharm
Sunday, March 09, 2014-6:24 AM

क्या आप जानते हैं बुरी नजर,ऊपरी बाधाएं, शक्तियां,परेशानीयां महिलाओं पर ही अधिक प्रभावित क्यों होती हैं इसका कारण यह है की महिलाओं पर मायावी जिम्मेदारी बहुत अधिक होती है। अगर इन समस्याओं का समाधान चाहते हैं तो अमंगलकारी वस्त्रों से बचें जैसे-

1 हल्के रंग के वस्त्र पहनने से जहां आत्मविश्वास बढ़ता है, वहीं दरिद्रता व असंतोष जैसे विकार भी दूर होते हैं।

2 गंदे वस्त्र अकल्याणकारी होते हैं। हमेशा साफ व स्वच्छ वस्त्र ही धारण करें।

3 वस्त्रों के बारे में कहा जाता है कि दूसरों के वस्त्र पहनने से अपना पुण्य नष्ट होता है। किसी भी हालत में अन्य महिला के कपड़े धारण नहीं करें।

4 चूहों से कटे हुए वस्त्र धारण करने से व्यक्ति हमेशा भयभीत रहता है।

5 धर्म स्थानों में जानें से पूर्व महिलाएं वस्त्रों की मर्यादा का ध्यान रखें। हमारे वस्त्र हमारी प्रकृति एवं सोच का प्रतिबिम्ब हैं, वहीं दूसरे के अच्छे-बुरे विचारों को भी उकसाते हैं। अतः वस्त्रों की मर्यादा रखें। महिलाएं अंग-प्रदर्शन करते वस्त्र पहन कर धर्म स्थान में न जाए।

6 किसी भी सुअवसर पर काले एवं सफ़ेद वस्त्र नहीं पहनने चाहिए।

7 अपने अंतर वस्त्र किसी दूसरे को पहननें के लिए नहीं देने चाहिए।

8 महिलाएं अमावस्या व शनिवार के दिन अपने बाल खुले नहीं छोड़े़ क्योेंकि खुले बालों पर बुरी नजर व ऊपरी बाधाओं का प्रभाव जल्दी पड़ता है हो सके तो इन दिनों में काले - नीले वस्त्र भी नहीं पहनने चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You