हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे। हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे।। मंत्र का निर्माण कैसे हुआ

  • हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे।  हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे।। मंत्र का निर्माण कैसे हुआ
You Are HereDharm
Monday, November 25, 2013-7:43 AM

भगवान श्री राम ने अपने छोटे भाई लक्ष्मण को श्री कृष्ण चरित में बड़ा भाई बलराम बनाया। केवट ने भगवान के चरण गंगा जल से धोए थे। केवट ही अगले जन्म में सुदामा बना,श्री कृष्ण ने सुदामा के चरणों को अपने आंसूओं से धोकर अलौकिक मित्रता का उदाहरण देते हुए सम्मानित किया। अंगद ही अर्जुन बना। अजुर्न के रथ में निस्वार्थ सेवा करने वाले हनुमान जी को सर्वोच्च स्थान देकर सम्मानित किया। भगत जी का रूप श्री राम जैसा था तथा उद्धव जी का रूप श्री कृष्ण जैसा था। दोनों चरितों में इन्होंने चरण पादुका को प्राप्त किया था।

बालि ने श्री राम से कहा था कि आप ब्रह्मा हैं पर ब्रह्मा तो समदर्शी होता है। फिर आप ने मुझे बहेलियों की तरह क्यों मारा श्री कृष्ण चरित में बालि ही बहेलियां बना जिसने श्री कृष्ण को तीर मारकर अपने लोक बैकुण्ठधाम को भेज दिया। इस प्रकार भगवान ने श्री कृष्ण को समदर्शी सिद्ध किया तथा यह भी दिखलाया जैसी करनी वैसी भरनी का नियम सबके लिए है।

दोनों के चरित मिलकर निराकार ईश्वर श्री हरि की व्याख्या करते हैं इसलिए

हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे।

हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे।।

मंत्र बनाया गया है।

मुझ में राम तुझ में राम, सबमें राम समाया। कर लो सभी से प्रेम, जगत में कोई नहीं पराया ।।

श्री कृष्ण चरित का पूरक है श्री राम चरित हरि को सत नाम और श्री राम नाम द्वारा भी जाना जाता है। राम शब्द का अर्थ है व्यापक। कृष्ण शब्द का अर्थ है ऐसा आकर्षण जो हमें आनंद प्रदान करें। श्री कृष्ण चरित श्री राम चरित का पूरक है। दोनों चरित मिलकर श्री हरि की व्याख्या करते हैं। इसलिए

हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे।

हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे।।

मंत्र बनाया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You