नर्वदेश्वर मंदिर भित्ति चित्रकला का अनुपम प्रतीक है

  • नर्वदेश्वर मंदिर भित्ति चित्रकला का अनुपम प्रतीक है
You Are HereDharm
Saturday, November 30, 2013-2:20 PM
 
 

हिमाचल प्रदेश का जिला हमीरपुर कटोच वंश के राजा हमीर चंद कटोच की महान हस्ती के नाम से प्रसिद्ध है। राजा हमीर चंद ने पर्यटकों को मध्य नजर रखते हुए इस क्षेत्र को कई कलाकृतियों से अलकृंत किया है तथा लोगों के लिए आकर्षण के केद्र बना डाला है, जिसमें कई मंदिर, कच्चे पक्के रास्ते, महान प्रसिद्ध किले जो हमीरपुर तथा नादौन रियासतों को चार चांद लगाकर उनके पीछे कई कहानियों को उजागर कर स्थापित किए है।

जिसका सारा श्रेय महाराजा संसार चंद कटोच को जाता है। जिन्होंने एक महान शासक होने के नाते सुजानपुर टीहरा को युद्ध प्रांगन बनाकर उसकी संज्ञा को चरितार्थ कर दिया। महाराजा संसार चंद कटोच कला तथा संस्कृति प्रेमी योद्धा थे। जिन्होंने इस रियासत में कई तरह के निर्माण कर जनता के लिए समर्पित किए। 1758 में महाराजा संसार चन्द्र के बेटे ने सुजानपुर राजधानी की गद्दी संभालने के उपरांत और भी कई तरह के निर्माण करवाए। जिनमें प्राचीन सभ्यता को अंकित कर कलाकृतियों में दर्शाया गया है।

महाराजा संसार चंद ने सुजानपुर टीहरा में एक ऊंची पहाड़ी पर किला बनवाया जिसका नाम बरादरी रखा। इस महल के प्रांगन में एक मंदिर है। जिसमें गौरी शंकर की अष्टधातु से बनी मूर्ति स्थापित की गई है। जहां लोग पूर्ण आस्था के साथ दर्शनों के लिए आते हैं और भगवान गौरी शंकर का आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। यह मंदिर सन् 1793 में राजा संसार चंद ने अपनी मां की याद में बनवाया था।

1905 ई में जिला कांगड़ा में एक विध्वशंकरी भूकम्प आने से कांगड़ा क्षेत्र में काफी जान माल की हानि हुई थी। इस भूकम्प से सुजानपुर स्थित महल को भी कुछ नुक्सान पहुंचा था। सुजानपुर में और भी बहुत से देवी देवताओं के मंदिर महाराजा संसार चन्द ने बनवाए। जिसमें नर्वदेश्वर मंदिर आज भी सुजानपुर की अपनी पहचान के रूप में है।

यहां पर निर्मित भव्य मंदिर की दीवारों पर कांगड़ा कलम के मनोहारी चित्र राजा संसार चंद के दरबारी कलाकारों ने उकेरे हैं। नर्वदेश्वर मंदिर भित्ति चित्रकला का अनुपम प्रतीक है। इस मंदिर के चारों कोनों पर सूर्य, गणेश, दुर्गा तथा लक्ष्मी- नारायण के छोटे मंदिर बने हैं और इसकी पिछली दीवार में लाल पत्थर महिशासुरमर्दिनी दुर्गा की प्रतिमा उकेरी गई है।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You