मन की मुराद पूरी करने वाला कल्‍पवृक्ष

  • मन की मुराद पूरी करने वाला कल्‍पवृक्ष
You Are HereDharm
Tuesday, December 17, 2013-10:39 AM

भगवान राम की शरण में आने वाले प्रत्येक मनुष्य को पूर्ण फल प्राप्त होता है क्योंकि धर्म परंपराओं में भगवान राम के लिए गहरी आस्था और भक्ति से यह कहा जाता है राम से भी बड़ा है राम का नाम। राम-नाम के जप के साथ जो साधन होते हैं, वे दस गुना अधिक लाभदायक हो जाते हैं परंतु राम-नाम के बिना जो साधन होता है वह किसी भी तरह का फल प्रदान नहीं करता।

ह्रदय में निर्गुण ब्रह्मा का ध्यान, नेत्रों के सम्मुख सगुण स्वरुप की सुंदर झांकी और जीभ से प्रभु का सुंदर राम - नाम का जप करना ऐसा है मानो सोने की सुंदर डिबिया में मनोहर रत्न सुशोभित हों। 'राम' नाम निर्गुण ब्रह्म और सगुण भगवान दोनों से बड़ा है। राम नाम चमत्कारी मंत्र है, साधारण सा दिखने वाला यह मंत्र चर्चा का नहीं, अनुभव का विषय है।

1 "राम" नाम का सहारा लेने से जीवन की समस्त बाधाओं से मुक्ति मिलती है।

2 राम नाम लेखन में काल, स्थान की बंदिश नहीं होती, कोई भी बिना भेद-भाव के राम नाम लिखकर पुण्य कमा सकता है। मंगलवार से राम नाम लिखने की शुरुआत करने से बड़े ही शुभ व मंगलकारी परिणाम मिलते हैं। पौराणिक मान्यताओं के अनुरूप राम नाम लिखने का चमत्कारिक लाभ भगवान श्रीकृष्ण ने धर्मराज युधिषिठर को बताया था ताकि वह अपना छिना राज्य फिर से पाने की चाहत पूरी कर सकें।

3 राम - नाम का जाप करने से मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

4 रामायण में तुलसीदास जी कहते हैं कि छ: मास तक दुध का आहार ग्रहण करने से अथवा केवल फल खाकर राम - नाम का जप करने से समस्त सिद्धियां अपने-आप ही मिल जाती हैं।

5 जीवन सौभाग्य और दुर्भाग्य की अनुभूतियों से भरा हुआ है। दुर्भाग्य को दूर करने के लिए नित्य राम नाम का जाप करने से पुण्य तथा सौभाग्य का सृजन होने लगता है।

6 भगवान श्रीरामचंद्रजी का नाम इस कलियुग में कल्पवृक्ष अर्थात मनचाहा फल प्रदान करने वाला है और कल्याण का निवास अर्थात मुक्ति का घर है।

7  राम नाम के जाप से मोक्ष के आधार साक्षात भगवान की प्राप्ति होती है।

8  प्रेम, विश्वास और विधि के साथ नामापरधों से दूर रहते हुए राम नाम जपने से  आदि, मध्य और अन्त तीनों ही कालों में कल्याण होता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You