वास्तु खोलेगा आपके लिए धन - समृद्धि के द्वार

  • वास्तु खोलेगा आपके लिए धन - समृद्धि के द्वार
You Are HereDharm
Friday, January 03, 2014-2:22 AM

जहां हम निवास करते हैं उसे वास्तु कहा जाता है। घर में क्या दोष है, जिस वजह से हमें दुखों-तकलीफों का सामना करना पड़ रहा हैं। घर में नकारात्मक ऊर्जा का संचार है या सकारात्मक। किस स्थान पर कौन सा दोष है यहां पर कुछ वास्तु दोष निवारण के उपाय दिए जा रहे हैं, जिसके प्रयोग से आप लाभान्वित होंगे।

1 घर के अंदर अपने आप गिरी हुई घुड़नाल लगाने से लक्ष्मी मां वहां अपना स्थायी निवास बना लेती हैं।

2 अगर आपका घर चारों ओर से बड़े मकानों से घिरा हो तो उनके बीच बांस का लम्बा झंडा लगाएं या कोई बहुत ऊंचा बढ़ने वाला पेड़ लगाएं। इससे सकारात्मकता का संचार होगा।

3 घर में अखण्ड रूप से श्री रामचरितमानस के नौ पाठ कराने से वास्तु संबंधित दोष समाप्त हो जाते हैं।

4 घर में नौ दिन तक अखण्ड भगवन्नाम कीर्तन करने से वास्तु जनित दोष का निवारण हो जाता है।

5 मुख्य द्वार के ऊपर सिंदुर से स्वास्तिक का चिन्ह बनाएं। यह चिन्ह नौ अंगुल लम्बा तथा नौ अंगुल चौड़ा होना चाहिए। घर में जहां जहां वास्तु दोष हो, वहां वहां यह चिन्ह बनाया जा सकता है।  

6 घर के सभी प्रकार के वास्तु दोष को दूर करने के लिए मुख्य द्वार पर एक ओर केले का वृक्ष दूसरी ओर तुलसी का पौधा लगाएं।

7 घर में कलह कलेश् रहता हो तो पीपल के पेड़ पर सरसों के तेल का दीया जला कर उसमें काले माह (उड़द ) के तीन दाने डाल दें। यह उपाय तीन शनिवार सूरज ढलने के उपरांत करें।

8 घर परिवार में सुख-शान्ति और समृद्धि को स्थापित करने के लिए रोजाना जब रोटी बनाएं तो पहली रोटी के चार बराबर भाग करें, एक गाय को, दूसरा काले कुत्ते को, तीसरा कौए को और चौथा चौराहे पर रख दें।

9 घर में कोई चिरकाल से बीमार हो अथवा घर का कोई न कोई सदस्य बीमार रहता हो तो बुधवार के दिन कंजकें जो मन्दिर के बाहर बैठीं हों को साबुत बादाम बांटे।

10 घर के किसी भी कार्य के लिए निकलते समय पहले विपरीत दिशा में 4 पग जाएं, तदउपरांत कार्य पर चले जाएं, कार्य जरूर बनेगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You