मनवांछित वर प्राप्त होते हैं सोमवार को शिव पूजन से

  • मनवांछित वर प्राप्त होते हैं सोमवार को शिव पूजन से
You Are HereDharm
Monday, January 20, 2014-7:42 AM
शिव महापुराण के मतानुसार सृष्टि के अस्तित्व में आने से पूर्व सिर्फ और सिर्फ महादेव ही वह शक्ति थे जिनका न कोई आदि था और न ही अंत। महादेव की भक्ति से जीव को समस्त सुख, धन, मान-सम्मान आदि मन वांछित वर प्राप्त होते हैं। महादेव को खुश करने के बहुत से उपाय शास्त्रों में बताए गए हैं जैसे

1 प्रतिदिन महादेव की पूजा, अर्चना, आरती करना श्रेष्ठ मार्ग हैं। इससे अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। अगर प्रतिदिन न हो पाए तो सोमवार को अवश्य करें। सोमवार महादेव को बहुत प्रिय है।

2 समस्त मनोकामनाओं को पूर्ण करने के लिए शिवलिंग पर प्रतिदिन गाय का कच्चा दूध अर्पित करें। ताजा दूध ही प्रयोग में लाएं, डिब्बा बंद अथवा पैकेट का दूध अर्पित न करें।

3 ज्योतिष शास्त्र में दूध को चंद्र ग्रह से संबंधित माना गया है क्योंकि दोनों की प्रकृति शीतलता प्रदान करने वाली होती है। चंद्र ग्रह से संबंधित समस्त दोषों का निवारण करने के लिए सोमवार को महादेव पर दूध अर्पित करें।

4 सोमवार को श्रद्धापूर्वक व्रत करें। अगर पूरे दिन व्रत रखना सम्भव न हो तो सूर्यास्त तक भी व्रत कर सकते हैं।

5 बेल पत्र, दूध, गंगाजल, इत्र, देसी घी, रोली, मौली, शहद और चंदन से शिवलिंग का अभिषेक करें।

6 अपशगुनों से बचाव के लिए नवविवाहित जोड़ों को मंगला गौरी व्रत करना चाहिए।

7 ओम नमः शिवाय का जाप चलते-फिरते, उठते-बैठते करते रहें।

8 मनुष्य जीवन में ज्ञान, कर्म एवं उपासना से संबंधित, धर्म, अर्थ, काम एवं मोक्ष से संबंधित तथा रज, सत एवं तम से संबंधित जो भी कुछ है रुद्राक्ष में समाया हुआ है। ब्राह्मण को श्वेतवर्ण वाले रुद्राक्ष, क्षत्रिय को रक्तवर्ण वाले रुद्राक्ष, वैश्य को मिश्रित रंग वाले रुद्राक्ष और शूद्र को कृष्ण वर्ण वाले रुद्राक्ष धारण करने चाहिए। रुद्राक्ष धारण करने पर बड़ा पुण्य प्राप्त होता है और सभी प्रकार की सुख-संपत्ति मिलती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You