ऐसा करने से घर में निरंतर धन का आगमन बना रहता है

  • ऐसा करने से घर में निरंतर धन का आगमन बना रहता है
You Are HereDharm
Friday, February 07, 2014-8:20 AM

जीवन में सुख की चाह रखने वाले मानव कभी देव पूजा, कभी व्रत तो कभी तीर्थयात्रा करते हैं, किन्तु घर की लक्ष्मी का आदर नहीं करते। जिस घर में स्त्री का अनादर होता है उसमें कभी समृद्धि नहीं होती। धन लक्ष्मी को अपने घर में विराजित करना चाहते हैं तो जीवन में कभी किसी भी हाल में स्त्री का अनादर नहीं करें। जिस घर मे स्त्रियों का सम्मान नहीं होता उस घर पर देवताओं की कृपा नहीं बरसती।

मां धन लक्ष्मी की पूजा अर्चना करने के लिए सच्चे मन से उनका सिमरण करें। प्रात व संध्या के समय महालक्ष्मी मां के चित्र अथवा स्वरूप पर कुंमकुंम, अक्षत, गंध, फूल अर्पित करें और अगरबत्ती जलाएं। लक्ष्मी जी की उपासना करने से पूर्व और शुक्रवार के दिन सादे-स्वच्छ श्वेत वस्त्र पहनें।
 
1 रविवार और मंगलवार को नमक के बिना भोजन खाने से धन लक्ष्मी खुश होती हैं।

2  रविवार के दिन महिला और पुरूष को एक दूसरे का स्पर्श नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से पैसे की कमी नहीं रहती।

3 शनिवार की शाम को पीपल के नीचे दिया जलाकर गंगा जल की कुछ बूंदें और सादा पानी लोटा भर के पीपल के मूल में अर्पित कर देने से धन लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है।

4 महाशिवरात्रि और निर्जला एकादशी के दिन जो जातक पानी ग्रहण नहीं करता धन लक्ष्मी मां स्वयं उस घर में पधारती हैं।

5 मां धन लक्ष्मी के स्वरूप, चित्र अथवा यंत्र पर कमलगट्टे की माला पहनाकर किसी भी तालाब अथवा नदी में विसर्जित करने से घर में निरंतर धन का आगमन बना रहता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You