ऐसे होगी घर में बरकत व बचत

  • ऐसे होगी घर में बरकत व बचत
You Are HereJyotish
Saturday, February 08, 2014-7:44 AM

कर्ज इंसान के सुख-चैन का सबसे बड़ा दुश्मन है। व्यक्ति को अपने खर्चों पर नियंत्रण रखना चाहिए। खर्चों पर नियंत्रण बचत और निवेश में काफी मदद करता है। व्यक्ति निवेश करके धन संचय का लक्ष्य तो तैयार करता है लेकिन खर्चों पर नियंत्रण नहीं होने की वजह से उसका लक्ष्य समय से पूरा नहीं हो पाता है। जीवन का लक्ष्य केवल धन कमाना ही नहीं होता, बल्कि उसको बचाना भी जरूरी है, ताकि मुश्किलों या आर्थिक परेशानियों के समय राहत मिल सके।
 
शास्त्रों के अनुसार माता धन लक्ष्मी ऐश्वर्य और सुख की देवी हैं। कर्म और कर्तव्य से जुड़े इंसान पर हमेशा मां मेहरबान रहती हैं। हर इंसान धन और समृद्धि के रूप में लक्ष्मी की प्रसन्नता की कामना रखता है। अधिकतर ऐश्वर्य और सुख की वस्तुएं धन से ही खरीदी जा सकती हैं। तो आइए जानें कैसे होगी घर में बरकत व बचत

- अमावस्या की शाम को भगवान शिव एवं महालक्ष्मी माता के सामने घी का दीपक जलाएं।

- कमल पर बैठी हुई लक्ष्मी मां की पूजा बहुत फलदायी होती है। संध्या के समय उत्तर-पूर्व दिशा में बैठकर गंध, लाल अक्षत, लाल फूल, लाल वस्त्र, नैवेद्य से मां का पूजन करें।

- पूजा के उपरांत माता लक्ष्मी के निम्न मंत्र का जप करें -

ॐ कमलवासिन्यै नम:

- माता लक्ष्मी के श्रीसूक्त स्तोत्र का पाठ दरिद्रता, दु:ख और कलह का अंत करता है।

- पूजा और जप के उपरांत माता लक्ष्मी की आरती करें एवं उपासना में हुई गलतियों के लिए क्षमा-प्रार्थना अवश्य करें।

- शुक्लपक्ष की पंचमी को घर में श्रीसूक्त की ऋचाओं के साथ आहुति दें।

- अपनी तिजारी में 9 लक्ष्मी कारक कौड़ियां और एक तांबे का सिक्का रखने से आपकी तिजोरी में धन हमेशा भरा रहेगा।

- भोजन करने से पहले गाय, कुत्ते या कौवे के लिए एक रोटी निकाल दें। ऐसा करने से आपको कभी भी आर्थिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You