इस दिन करते हैं लक्ष्मी जी और शनिदेव धन-धान्य में वृद्धि

  • इस दिन करते हैं लक्ष्मी जी और शनिदेव धन-धान्य में वृद्धि
You Are HereDharm
Saturday, March 08, 2014-7:24 AM

वृक्ष हमारे जीवन में विशिष्ट महत्व रखते हैं। वृक्षों के बिना सृष्टि की कल्पना करना व्यर्थ हैं। कुछ वृक्षों का धार्मिक महत्व भी होता है। इन्हीं पेड़ों में सबसे अधिक महत्वपूर्ण है पीपल का वृक्ष। महात्मा बुद्ध ने पीपल के नीचे बैठकर ही ज्ञान प्राप्त किया था इसलिए इसे 'बोधिवृक्ष' भी कहा जाता है। सनातन धर्म में इन्हें देव तुल्य मान कर पूजा जाता है।

केवल भारत में ही नहीं बल्कि अन्य देशों में भी इनको बहुत पवित्र माना गया है। तिब्बत में 'लालचंड, नेपाल में 'बंगलसिमा, बर्मा में 'स्याम, श्रीलंका में इसका 'शोलबो नाम से जानते हैं। बुद्ध देव के अनुयायी 'बोधिवृक्ष कहते हैं। भगवान श्री कृष्ण जी ने गीता में पीपल को स्वयं अपने ही समान माना है।

धर्मशास्त्रों के मतानुसार शनिवार के दिन पीपल देवता को दीप दान करना, जल और तेल चढाना, उपासना करना एवं परिक्रमा करना बहुत शुभ होता है क्योंकि श्री विष्णु और लक्ष्मी जी पीपल वृक्ष के तने में स्वयं निवास करते हैं। जो जातक ऐसा करते हैं उन्हें श्री विष्णु,लक्ष्मी जी और शनिदेव की प्रसन्नता प्राप्त होती है जिससे कष्ट कम होते हैं और धन-धान्य की वृद्धि होती है।

धर्म शास्त्रों में उल्लेख मिलता है पीपल पेड़ का रोपन करने वाले जातक को जीवन में कभी भी किसी भी प्रकार को कोई कष्ट नहीं सताता। उसका घर धन धान्य के भंडार से भरपूर रहता है। पीपल का रोपन करने के उपरांत उसे प्रतिदिन जल चढ़ाएं जैसे-जैसे इस पेड़ का विस्तार होगा आपके घर-परिवार में सुख-समृद्धि बढ़ती जाएगी, धन बढ़ता जाएगा। पीपल के बड़े होने तक इसका पूरा ध्यान रखना चाहिए तभी आश्चर्यजनक लाभ प्राप्त होंगे।

ज्योतिष की दृष्टि से

1 शनि देव के किसी भी प्रकार के अशुभ प्रभाव को नष्ट करने के लिए पीपल की पूजा करना शुभ होता है।

2 रविवार को छोड़कर रोजाना पीपल को जल चढ़ाने से जन्म कुंडली के कई अशुभ माने जाने ग्रह योगों का प्रभाव समाप्त हो जाता है।

3 पीपल की परिक्रमा करने से कालसर्प दोष समाप्त हो जाता है।

4 पुराणों के मतानुसार पीपल में समस्त देवी-देवताओं का निवास है।

5 जीवन की समस्त समस्याओं का समाधान चाहते हैं तो पीपल के वृक्ष के नीचे शिवलिंग स्थापित करें और प्रतिदिन उनका पूजन करें। ऐसा करने से गरीब व्यक्ति भी धीरे-धीरे मालामाल होने लगेगा।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You