अगर आप अपनी परेशानियों से निजात पाना चाहते हैं ...

  • अगर आप अपनी परेशानियों से निजात पाना चाहते हैं ...
You Are HereDharm
Monday, March 24, 2014-8:19 AM

ईश्वर आप में उस दिन नृत्य करते हैं जिस दिन आप हंसते और प्रेम में होते हो। सुबह हंसना ही सच्ची प्रार्थना है। जब आप हंसते हो तो सारी प्रकृति आपके साथ हंसती है। जब सब कुछ आपके अनुसार हो रहा हो तो कोई भी हंस सकता है लेकिन जब आपके विपरीत हो रहा हो और आप हंस सकें तो समझो विकास हो रहा है। आपके जीवन में आपकी हंसी से मूल्यवान और कुछ नहीं। चाहे जो हो जाए इसे किसी के लिए खोना नहीं है।

घटनाएं आती हैं और जाती हैं। कुछ तो सुखद होंगी और कुछ दुखद लेकिन जो कुछ भी हो, आपको वे छू न पाएं तभी आप हंसने के योग्य होंगे। कभी-कभी आप अपने आपको नहीं देखने के लिए या कुछ सोचने से बचने के लिए हंसते हो लेकिन जब आप हर क्षण यह देखते हो और अनुभव करते हो कि जीवन हर क्षण है और जीवन का हर क्षण अपराजय है तो आपको कोई परेशान नहीं कर सकता।

हंसी हमें खोलती है, हमारे दिल को खोलती है। नकारात्मक विचारों के आने का एकमात्र कारण तनाव है। यदि आप किसी दिन बहुत तनाव में हों तो आपमें नकारात्मक विचार आने लगेंगे और आप परेशान हो जाएंगे। इन विचारों, जिनका कोई अर्थ नहीं है, से पीछा छुड़ाने के स्थान पर आप उन बिंदुओं को, कारणों को खोजें जिनके कारण ये विचार आ रहे हैं। यदि स्रोत स्वच्छ हैं तो मात्र सकारात्मक विचार ही आएंगे। हमें जो जैसा है उसे वैसा ही देखने की आवश्यकता है, विषय और पूर्णता के साथ। यह जीवन के लिए सारभूत है। जब आपमें ऐसा होने लगे तो आपके जीवन में सही अर्थों में हंसी जन्म लेगी।







 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You