धनतेरस आज: जानें, पूजन और खरीदारी का शुभ समय

  • धनतेरस आज: जानें, पूजन और खरीदारी का शुभ समय
You Are HereDharm
Tuesday, October 17, 2017-12:30 PM

आज धनतेरस पर्व से पंच महोत्सव का आरंभ हो गया है। पूरे साल में खरीदारी करने का ये सबसे शुभ दिन है। बड़े-बुजुर्ग कहते हैं, इस रोज की गई शापिंग घर में शुभ लाभ लेकर आती है। धन के देवी-देवता लक्ष्मी-कुबेर प्रसन्न होते हैं और अपना आशीष बनाए रखते हैं। कुछ विद्वानों का मानना है सारा दिन ही मंगलसूचक होता है, कभी भी खरीदारी की जा सकती है। अन्य का मत है की शुभ समय में की गई खरीदारी अधिक फल देती है।
 

पूजा और खरीदारी का शुभ मुहूर्त 
शाम 07.30 से 09.00 बजे तक 
 

इस समय न करें पूजा और खरीदारी
सायं 03.00 से 04.30 के बीच अशुभ मुहूर्त है।


क्या खरीदें
लक्ष्मी व गणेश जी की मूर्ति खरीदें।


लोक मान्यता के अनुसार इस अवसर पर धनिया के बीज खरीद कर भी लोग घर में रखते हैं। ऐसी जनश्रुति है कि इस दिन सूखे धनिया के बीज खरीद कर घर में रखना भी परिवार की धन संपदा में वृद्धि करता है। दीवाली के बाद इन बीजों को लोग अपने बाग-बगीचों या खेतों में बोते हैं। ये बीज उन्नति व धन वृद्धि के प्रतीक होते हैं। बदलते दौर के साथ लोगों की पसंद और जरूरत भी बदली है। कुछ लोग धनतेरस के दिन विलासिता से भरपूर वस्तुएं खरीदते हैं तो कुछ जरूरत की वस्तुएं खरीद कर धनतेरस का पर्व मनाते हैं। 


धनतेरस के दिन वाहन खरीदने का फैशन सा बन गया है। लोग इस दिन गाड़ी खरीदना शुभ मानते हैं। कुछ लोग मोबाइल, कम्प्यूटर और बिजली के उपकरण इत्यादि भी धनतेरस पर ही खरीदते हैं। सोना लेने की इच्छा है तो ब‌िस्कुट अथवा बॉड खरीदें।


क्या न खरीदें
शीशे का संबंध‌ भी राहु से है, इसकी खरीदारी से बचें। अगर शीशा खरीदें तो ध्यान रखें वह पारदर्शी अथवा धुधंला नहीं होना चाहिए।


कांच का सामान

 
एल्युम‌िन‌ियम के बरतन न खरीदें। यह ऐसा धातु है जिस पर राहू का अधिपत्य होता है लगभग सभी शुभ ग्रह इससे प्रभावित होते हैं। इसी कारण अलुमिनियम का प्रयोग पूजा- पाठ और ज्योतिष की दृष्टि से नहीं किया जाता।  अलुमिनियम का प्रयोग वास्तुशास्त्र, स्वास्थ्य और ज्योतिष की दृष्टि से अत्यधिक हानिकारक माना जाता है। 

 
नुकीला सामान जैसे चाकू, कैंची, छूरी और लोहे के बरतन। 
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You