इन उपायों से शीघ्र प्रसन्न होते हैं भोलेनाथ, दुर्भाग्य अौर ग्रह दोष होंगे शांत

  • इन उपायों से शीघ्र प्रसन्न होते हैं भोलेनाथ, दुर्भाग्य अौर ग्रह दोष होंगे शांत
You Are HereDharm
Sunday, August 13, 2017-10:46 AM

भगवान शिव एक लोटे जल के अर्पण से भी शीघ्र प्रसन्न हो जाते हैं। थोड़ी सी पूजा से भी भोलेनाथ व्यक्ति को मनचाहा वर देते हैं। शास्त्रों में बताया गया है कि भगवान शिव की लिंग स्वरूप में पूजा करने से भोलेनाथ शीघ्र प्रसन्न होते हैं। यहां कुछ सरल उपाय बताए गए हैं, जिनको करने के बाद तुरंत असर दिखने लगता है। सावन के पावन महीने में ये उपाय करने से भोलेनाथ प्रसन्न होकर कई गुणा अधिक फल प्रदान करते हैं। 

भोलेनाथ को जल अर्पित करते समय शिवलिंग को दोनों हथेलियों से रगड़ना चाहिए। इससे हर व्यक्ति का भाग्य बदल जाता है। 

बिल्बपत्रों पर चंदन से ॐ नमः शिवाय लिखें। उसके बाद इन पत्तों की माला बनाकर शिवलिंग पर अर्पित करें। इस बात का ध्यान रखे कि बिल्ब पत्र कटे-फटे न हों। 

यदि बहुत इलाज करवाने के बाद भी स्वास्थ्य में लाभ नहीं हो रहा है तो जल में दूध तथा काले तिल मिलाकर शिवलिंग पर अर्पित करें। ऐसा करने से व्यक्ति की सभी बीमारियां दूर हो जाती है। 

जल में केसर डालकर शिवलिंग का जलाभिषेक करें। इससे विवाह तथा वैवाहिक जीवन से जुड़ी समस्याएं तुरंत दूर होती है तथा गृहस्थ जीवन खुशहाल बना रहता है। 

जल में काले तिल मिलाकर शिवलिंग पर अर्पित करने से कुंडली के शनिदोषों से राहत मिलती है। 

शिवलिंग पर दूध अौर श्रीगणेश पर दूब अर्पित करें। इससे व्यक्ति को दीर्घायु की प्राप्ति होती है। 

आंकड़े के फूलों की माला बनाकर नियमित रुप से शिवलिंग पर अर्पित करने से व्यक्ति की संपूर्ण मनोकामनाएं पूर्ण होती है। 

चावलों को पका कर उनसे भगवान शिव का श्रृंगार कर पूजा करें। ऐसा करने से कुंडली के मंगल दोषों से मुक्ति मिलती है। 

प्रतिदिन शिवलिंग पर धतूरा अर्पित करने से घर अौर संतान से संबंधित समस्याएं दूर होती है। इसके साथ ही संतान को सभी कार्यों में सफलता मिलती है।

लगातार प्रयासों से भी सफलता नहीं मिल रही है तो प्रतिदिन पारे से निर्मित शिवलिंग का पूजन करें। इससे सफलता व्यक्ति के कदम चूमेगी।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You