घर-दुकान की इस दिशा में करें पानी की व्यवस्था, मिलेगी कर्ज से मुक्ति

  • घर-दुकान की इस दिशा में करें पानी की व्यवस्था, मिलेगी कर्ज से मुक्ति
You Are HereDharm
Tuesday, December 05, 2017-12:17 PM

हिंदू धर्म में वास्तु का अधिक महत्व माना जाता है। औद्योगिक भूखंड-वास्तुशास्त्र एक ऐसी विद्या है जिसमें प्रकृति की सभी शक्तियों को एक साथ समायोजित करके उनका भरपूर दोहन करने की प्रणाली विकसित की गई है। घर के निर्माण से लेकर घर की सजावट तक वास्तु की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है। वास्तु घर आदि की नैगेटिव एनर्जी को सकारात्मक उर्जा में बदल देता है। वास्तु व्यक्ति के जीवन को सुधारने में भी बहुत उपयोगी साबित होता है, तो आईए जानते हैं वास्तु के कुछ एेसे उपाय जिससे घर में सुख-शांति बनी रहती है और व्यक्ति उधार से घुटकारा पा सकता है। 

 

व्यक्ति को लिए हुए कर्ज की पहले किस्त हमेशा मंगलवार को चुकानी चाहिए। ऐसा करने से कर्ज जल्दी उतर सकता है।


घर के दक्षिण-पश्चिम हिस्से में टॉयलेट होने पर व्यक्ति पर कर्ज का बोझा बढ़ सकता है। इसलिए, घर में टॉयलेट दक्षिण-पश्चिम दिशा में रखने से बचना चाहिए।


घर या दुकान में उत्तर-पूर्व दिशा में कांच लगाना चाहिए। ऐसा करना लाभदायक होता है। साथ ही कर्ज से भी छुटकारा मिलता है।

 
कांच के फ्रेम का रंग लाल, सिंदूरी या मैरून नहीं होना चाहिए। साथ ही कांच जितना हल्का तथा बड़े आकार का होगा उतना ही लाभदायक होगा।


घर या दुकान में पानी की व्यवस्था उत्तर दिशा में रखी जाए तो कर्ज से घुटकारा पाने के लिए यह लाभदायक माना जाता है।

 
किचन में नीला रंग नहीं करना चाहिए, ऐसा करने से घर के सदस्यों पर बुरा असर पड़ता है साथ ही स्वास्थ्य की नजर से भी यह ठीक नहीं माना जाता।


अगर आपके घर या दुकान की सीढ़ियां पश्चिम दिशा की ओर हैं या पश्चिम दिशा की तरफ से नीचे की ओर आती है तो परिवार को कर्ज का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए, घर की सीढ़ियां पश्चिम दिशा की ओर नहीं होना चाहिए।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You