9 नवंबर को बनेगा गुरु-पुष्य योग, शनि की दशा को भी देगा मात

  • 9 नवंबर को बनेगा गुरु-पुष्य योग, शनि की दशा को भी देगा मात
You Are HereDharm
Wednesday, November 08, 2017-2:28 PM

कल 9 नवंबर बृहस्पतिवार का दिन शुभता के संकेत लेकर आ रहा है। इस दिन वर्ष 2017 का अत्यंत शुभ संयोग गुरु-पुष्य नक्षत्र लगेगा। जो 2-3 बरस में एक बार पड़ता है। कल दोपहर 1 बजकर 39 मिनट पर ये आरंभ होगा और अगले दिन सूर्योदय तक रहेगा। ज्योतिष विद्वानों का मानना है की इस नक्षत्र में सभी संतापों का नाश होता है और सफलता के योग बनते हैं। इस महायोग में शनि की महादशा रहेगी। जिन जातको पर शनि का प्रभाव है, उन्हें शुभता मिलेगी। कुंभ लग्न अभ्युदय होगा एवं कर्क राशि में चंद्रमा और राहु एक साथ रहेंगे। सूर्य और बृहस्पति भी उन्नत स्थिती में रहेंगे। इन सारी स्थितियों से राजयोग की स्थापना होगी। जब ग्रह नक्षत्रों की ऐसी अवस्था बनती है तो तंत्र संबंधित शक्तियां भी जागृत करने का सुनहरी मौका होता है।


इस शुभ योग में कुछ प्रचलित उपायों से धन की बचत व धन लाभ का दावा किया जाता है। गुरु पुष्य योग के दिन शुभ समय के आरंभ होने के साथ हरे रंग के कपड़े की छोटी थैली तैयार करें तत्पश्चात इस थैली में 7 मूंग, 10 ग्राम साबुत धनिया, एक पंचमुखी रुद्राक्ष, एक चांदी का रुपया या 2 सुपारी, 2 हल्दी की गांठ रख कर दाहिनी सूंड के गणेश जी को शुद्ध घी के मोदक का भोग लगाएं। फिर यह थैली तिजोरी या कैश बॉक्स में रख दें। आर्थिक स्थिति में शीघ्र सुधार आएगा। एक साल बाद नई थैली बना कर बदलते रहें। 

 
इसके अलावा अगर आप अपार धन-समृद्धि चाहते हैं तो आपको पके हुए मिट्टी के घड़े को लाल रंग से रंगकर, उसके मुख पर मौली बांधकर तथा उसमें जटायुक्त नारियल रखकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर देना चाहिए। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You