हनुमान जयंती कल: शुभ मुहूर्त में करें ये उपाय, सदा के लिए दूर हो जाएगी दरिद्रता

  • हनुमान जयंती कल: शुभ मुहूर्त में करें ये उपाय, सदा के लिए दूर हो जाएगी दरिद्रता
You Are HereLent and Festival
Tuesday, October 17, 2017-8:34 AM

बुधवार दिनांक 18.10.2017 को कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि के उपलक्ष्य में रुद्रावतार हनुमान जयंती का महोत्सव मनाया जाएगा। रुद्रावतार हनुमान का जन्मदिन साल में दो बार मनाया जाता है। एक, चैत्र पूर्णिमा तो दूसरा कार्तिक कृष्ण चौदस को। पौराणिक ग्रंथों में भी दोनों तिथियों का उल्लेख मिलता है। उनकी जयंती को लेकर दो कथाएं भी प्रचलित हैं लेकिन एक तिथि को जन्म दिवस के रुप में तो दूसरी को विजय अभिनन्दन महोत्सव के रुप में मनाया जाता है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सूर्य, शनि व राहु के दोषों के निवारण हेतु हनुमान आराधना विशेष मानी जाती है। इस दिन की गई हनुमान साधना रोग, शोक व दुखों को मिटाकर विशिष्ट फल देती है।


विशेष हनुमान पूजन: बुधवार दिनांक 18.10.2017 को हनुमान शक्ति पर्व मनाया जाएगा। इस दिन श्रेष्ठ संध्या पूजन मुहूर्त रहेगा शाम 19:15 से रात 21:10 तक। 


इन उपायों से सदा के लिए दूर हो जाएगी आपकी दरिद्रता
हनुमान जी का षोडशोपचार पूजन करें। 


चमेली के तेल का दीया जलाएं। 


गुग्गल से धूप करें। 


लाल पुष्प चढ़ाएं।


नवैद्य हेतु घी युक्त आटे का चूरमा व लड्डू चढ़ाएं। 


चमेली के तेल में सिंदूर मिलाकर हनुमान जी को अर्पित करें।


हनुमान जी के निमित्त इस मंत्र का जाप करें। हनुमान मंत्र: ॐ अंजनीजाय विद्महे वायुपुत्राय धीमहि तन्नो हनुमान प्रचोदयात्॥


आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com

Edited by:Aacharya Kamal Nandlal
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You