आगे बढ़ने का ये सबक अपनाने वाला पाता है जीवन की हर खुशी

  • आगे बढ़ने का ये सबक अपनाने वाला पाता है जीवन की हर खुशी
You Are HereDharm
Wednesday, April 19, 2017-10:04 AM

हम सभी को बचपन से ही अपने भीतर अच्छे संस्कारों, विचारों और अच्छे कार्यों के बीज अंकुरित करने का प्रयास करना चाहिए। इस कार्य के लिए प्रात:काल का समय बेहद महत्वपूर्ण होता है। प्रतिदिन प्रात:काल अपनी आंखें बंद करके परमात्मा से प्रार्थना करें कि हे परमात्मा, आप मुझे शक्ति प्रदान करो। मेरे रोम-रोम को स्वस्थ करो। यह सुनिश्चित करो कि पृथ्वी, जल, अग्नि, वायु और आकाश मेरे शरीर को स्वस्थ रखें ताकि मैं अपने जीवन को शक्तिशाली बनाकर रख सकूं।


यदि आप अपने जीवन के बारे में उत्तम विचार रखते हैं तो आपका जीवन उत्तम बनेगा और यदि आप नकारात्मक भाव रखते हैं तो आपका सारा जीवन नकारात्मक बन जाएगा। आपके शरीर में जो जीवन शक्ति है, वह नकारात्मक बन जाएगी। ऐसा इसलिए क्योंकि आपका शरीर आपके ही विचारों से प्रभावित होता है। जैसा आपका विचार होगा, वैसा ही आपका जीवन भी होगा। आपका व्यक्तित्व वैसा ही बन जाएगा। जो लोग जीवन को आनंद के रूप में, ऐश्वर्य के रूप में, सफलता के रूप में और संगीत के रूप में स्वीकार करते हैं, उनका जीवन आनंदमय, ऐश्वर्यमय, संगीतमय हो जाता है।


दूसरी ओर ऐसे भी लोग हैं जो जीवन को निराशा, असफलता और विपत्ति के रूप में स्वीकार करते हैं, लिहाजा उनका जीवन आंसू बनकर बह जाता है। अब प्रश्न यह उठता है कि हम अपने जीवन को आनंद के रूप में स्वीकार करते हैं या दुख के सागर के रूप में। जीवन को इससे कुछ लेना-देना नहीं है कि वह दुख लेकर आए या सुख लेकर। आप सब लोग अपने संपूर्ण जीवन के स्वामी हैं और आप ही अपने मन में भरे जाने वाले संस्कारों व विचारों के लिए जिम्मेदार हैं।


यदि आपके जीवन में कोई विकृति है तो प्रतिदिन प्रात:काल यह संकल्प लें कि अब मेरा विकार नष्ट हो रहा है। मेरे जीवन में अब सद्गुणों का उदय हो रहा है। ऐसे विचारों को रोज प्रसन्नतापूर्वक, मुस्कुराते हुए स्वीकार करना चाहिए और मन में संकल्प लेना चाहिए कि मैं प्रतिक्षण क्रियाशील बना रहूंगा, आलस्य का त्याग करूंगा, किसी प्रकार के नशे का सेवन नहीं करूंगा, लोगों से हमेशा मुस्कुराते हुए बातचीत करूंगा, क्रोध पर विजय प्राप्त करूंगा और मन की सारी बुरी भावनाओं का त्याग कर दूंगा। ऐसा करने से धीरे-धीरे आपकी नकारात्मकता सकारात्मकता में बदलने लगेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You