भाग्यशाली माना जाता है अंक-‘7’, होता है ये असर

  • भाग्यशाली माना जाता है अंक-‘7’, होता है ये असर
You Are HereDharm
Tuesday, November 28, 2017-9:58 AM

मेरे मित्र के स्कूटर का नंबर 0777 है। पिछले दिनों बाजार में उसे एक सज्जन मिल गए। सज्जन ने प्रार्थना की कि वह अपने स्कूटर का नंबर उसके  मोटरसाइकिल के नंबर से बदल ले जिसके लिए वह उसे पांच हजार रुपए देने को तैयार हो गया था। मित्र के पूछने पर उस व्यक्ति ने बताया कि 7 का अंक उसके लिए बहुत भाग्यशाली है और मित्र के स्कूटर में तो तीन ‘7’ एक साथ हैं।


अनेकों देशों में 13 का अंक अशुभ माना जाता है। चंडीगढ़ के योजनाकार ने चंडीगढ़ को जब सैक्टरों में बांटा तो उसने किसी सैक्टर को 13 का अंक नहीं दिया। आज तक चंडीगढ़ में 13 अंक का सैक्टर नहीं है।


अंक ‘7’ को भाग्यशाली, सुखदाता, समृद्ध, सफलता और प्रसन्नता देने वाला माना गया है। इसका कारण संभवत: यह होगा कि संसार के अनेक महत्वपूर्ण और प्रसिद्ध तथ्यों के साथ 7 का अंक जुड़ा हुआ है। 


हमारी धरती पर सागरों की संख्या सात है। संसार में सात अजूबे हैं। मनुष्य की आयु को सात भागों में बांटा गया है। प्रसन्नता प्रकट करने के लिए वह कह उठता है कि वह सातवें आसमान पर पहुंच गया है। बरसात के दिनों में धरती और आकाश को मिलाते हुए दिखाई देने वाले इंद्र धनुष के रंग भी सात हैं। वैज्ञानिकों के अनुसार मनुष्य की आंख केवल सात रंगों की ही पहचान कर सकती है।


ईसाई धर्म के भी अंक 7 को महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त है। मदर मेरी के दुखों की संख्या सात थी। ईसा मसीह की पहचान करने वाले यूनान के संत सात थे। ईसा मसीह ने अंतिम शब्द सात बोले थे। आकाश में महत्वपूर्ण सितारों का कुटुम्ब सात सितारों से बना हुआ है। इसे सप्तऋषि कहा जाता है। हिंदू विवाह वर-वधू के अग्रि के चारों ओर सात फेरे लेने के पश्चात ही संपन्न माना जाता है। विवाह के समय वधू वर से सात वचन मांगती है और पति-पत्नी का साथ सात जन्मों का माना जाता है। 


संसार में सात मुख्य धर्म और उनके ग्रंथ हैं। हिंदुओं के वेद, जैविकों के अंग, बौद्धों के त्रिपिटिक, ईसाइयों की बाईबल, मुसलमानों की कुरान, चीनियों की पंच राजा और सिखों का ग्रंथ साहिब।


बाईबल की एक प्रसिद्ध कहानी के नायक सैमसन के विवाह का कार्यक्रम सात दिन तक चला था। सैमसन ने अपनी अपार शारीरिक शक्ति का रहस्य अपनी पत्नी को सातवें दिन बताया था कि शक्ति उसके बालों में है। उसके बालों को काटने से पहले सैमसन को सात डायनों ने जकड़ रखा था। सैमसन के बालों के साथ गुच्छे काटे गए थे जिससे उसकी अपार शक्ति  का नाश हो गया था। बौद्ध धर्म में मनुष्य के जीवन को दुखों का घर कहा गया है। महात्मा बुद्ध ने दुखों की संख्या सात बताई है। 


प्राचीन ग्रंथ पंचतंत्र के अनुसार संसार में सात प्रकार की बुराइयां हैं। भारत में पवित्र नगरों की संख्या सात है। ये सात पवित्र नगर हैं-अयोध्या, काशी, मथुरा, गया, हरिद्वार, उज्जैन और द्वारिका। सप्ताह में सात दिन होते हैं। धरती का निर्माण करने के लिए भगवान को सात दिन लगे थे। भगवान के सिंहासन को जिन पवित्र आत्माओं ने घेरा हुआ है उनकी संख्या भी सात है और भगवान की प्रार्थना के सात भाग हैं। 


जापान के लोगों के अनुसार प्रसन्नता और सौभाग्य के देवताओं की संख्या सात है। स्काटलैंड में प्राचीन मान्यता के अनुसार सातवें बच्चे, यदि वह लड़की हो, उसके अंदर अपार शक्ति आ जाती है जिसके बल पर वह बड़ी से बड़ी और भयानक बीमारी का इलाज कर सकती है। 


साहित्य के क्षेत्र में भी अंक 7 ने महत्वपूर्ण स्थान बनाया हुआ है। वे पुस्तकें जिन के साथ 7 का अंक जुड़ा हुआ है, बहुत प्रसिद्ध हुई हैं। इस संदर्भ में ‘सातवां आदमी’ और ‘हम सात’ का नाम लिखा जा सकता है। इयान फलेमिंग के जगत प्रसिद्ध जासूसी उपन्यास के नायक को 007 के नाम से पुकारा जाता है जिसका असली नाम तो जेम्स बांड है। हिंदी के प्रसिद्ध कवि हरिवंश राय बच्चन की प्रसिद्ध कविता का नाम ‘सतरंगिनी’ है। संस्कृति के कवि कालिदास ने केवल सात कृतियों की रचना की। ये कृतियां हैं शकुंतला, मालविकाग्नि मित्र, विक्रमोर्वशी, कुमारसंभव, ऋतुसंहार और मेघदूत।  जान रस्किन ने ‘आर्किटैक्ट के सात लैंप’ लिखा तो कवि वर्ड्सवर्थ ने अपनी जग प्रसिद्ध कविता का नाम ‘हम सात’ रखा।


मनुष्य के जीवन में भी सात के अंक का महत्वपूर्ण स्थान है। मनुष्य के दूध के दांत सात वर्ष की आयु में टूटते हैं। आगे के सात वर्ष पश्चात अर्थात 14 वर्ष की आयु में वह सुवावस्था में पांव रखता है। तब फिर सात वर्ष पश्चात अर्थात 21 वर्ष की आयु में वह युवावस्था की चोटी पर पहुंच जाता है और 70 वर्ष की आयु में वह वृद्धावस्था को प्राप्त करता है।


कुछ लोग अपने वाहन के लिए अथवा फोन के लिए सात का अंक लेने के लिए अपार धन खर्च करने को तैयार हो जाते हैं। किसी महत्वपूर्ण कार्य पर जाते समय यदि उनको कोई वाहन ऐसा मिल जाए जिसकी नंबर प्लेट का अंक सात हो अथवा जोड़ 14 अथवा 21 हो तो वे उसको अच्छा शगुन मानते हैं। उन्हें तब विश्वास हो जाता है कि उनको कार्य में सफलता मिलेगी।


आजकल संख्या विज्ञान बहुत प्रसिद्ध होता जा रहा है, जो लोग व्यापार अथवा किसी अन्य कार्य में अपना सर्वस्व दांव पर लगा देते हैं वे ज्योतिष पर विश्वास करते हैं। भ्रम तभी विश्वास बन जाता है जब वह तीन-चार बार सच सिद्ध होता है। अंक 7 भी संभवत: इसी कारण भाग्यशाली माना जाने लगा होगा क्योंकि जीवन के प्राय: सभी क्षेत्रों में संसार की अनेक प्रसिद्ध घटनाओं के साथ 7 का अंक जुड़ा हुआ है। वैसे भी विश्वास और श्रद्धा किसी मुक्ति को नहीं मानते।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You