जानें, नवम्बर महीने में कब आएंगे व्रत-त्यौहार आदि

  • जानें, नवम्बर महीने में कब आएंगे व्रत-त्यौहार आदि
You Are HereLent and Festival
Monday, November 07, 2016-11:58 AM

7 नवम्बर : सोमवार : सूर्य षष्ठी व्रत का पारणा


8 : मंगलवार : श्री दुर्गाष्टमी, गोप अष्टमी, गोपूजा शृंगार, सायं 4 बज कर 33 मिनट पर पंचक प्रारंभ


9 : बुधवार : आमला (आंवला) नवमी (आंवला वृक्ष की पूजा परिक्रमा), आरोग्य नवमी, अक्षय नवमी, कूष्मांड  नवमी


10: वीरवार : देव (हरि) प्रबोधिनी एकादशी व्रत स्मार्त (गृहस्थियों) का, भीष्म पंचक प्रारंभ (एकादशी प्रात: 11 बज कर 22 मिनट से लगेगी), मेला श्री रेणुका तीर्थ (नाहन), श्री पंढरपुर यात्रा (महाराष्ट्र), देव उत्थान एकादशी


11 : शुक्रवार : देव (हरि) प्रबोधिनी एकादशी व्रत वैष्णवों (संन्यासियों) का, तुलसी विवाह उत्सव प्रारंभ, चातुर्मास व्रत नियमादि समाप्त, हरिप्रबोध उत्सव, त्रिस्पर्शा महाद्वादशी, मेला बाबा रुद्रानंद नारी (ऊना) एवं मेला हरिप्रयाग शिमला


12 : शनिवार : शनि प्रदोष व्रत, कवि कालीदास जयंती, जन्म दिन मेला श्री वीर वैरागी जी (नकोदर), रात्रि 10 बज कर 30 मिनट पर पंचक समाप्त


13 : रविवार : वैकुंठ चतुर्दशी व्रत, वैकुंठ चौदश, श्री काशी विश्वानाथ प्रतिष्ठा दिवस, शहीदी दिवस बाबा दीप सिंह जी शहीद,महाराजा रणजीत सिंह की जयंती


14 : सोमवार : श्री सत्य नारायण व्रत, स्नानदान आदि की कार्तिक पूर्णिमा, त्रिपुरा पूर्णिमा, पहली पातशाही रब्बीनूर श्री गुरु नानक देव जी महाराज का जन्म महोत्सव, महाकार्त पूर्णिमा, श्री निम्बार्काचार्य जयंती, काॢतक स्नान एवं भीष्म पंचक समाप्त, रथ यात्रा एवं चातुर्मास समाप्ति (जैन), मेला तीर्थ राज श्री पुष्कर तीर्थ (अजमेर), मेला श्री कपालमोचन जी (नजदीक यमुनानगर, अम्बाला-हरियाणा), मेला श्री रामतीर्थ जी (अमृतसर), मेला झिड़ी बाबा (जम्मू-कश्मीर), मेला श्री गढग़ंगा (उ.प्र.), हरिहर क्षेत्र का मेला (सोनपुर), पदमक योग सायं 4 बज कर 27 मिनट से अगले दिन दोपहर 1 बजकर 17 मिनट तक, त्रिपुर उत्सव, पं. जवाहर लाल नेहरू जी का जन्म दिन (बाल दिवस)


15 : मंगलवार : मार्गशीर्ष कृष्ण पक्ष प्रारंभ, अगले दिन सूर्य उदय से पहले प्रात: 6 बज कर 17 मिनट पर सूर्य वृश्चिक राशि में प्रवेश करेगा, आकाशदीपदान समाप्त, पदमक योग दोपहर 1 बज कर 17 मिनट तक रहेगा, मृगछोड़ी स्नान प्रारंभ, पद्मक योग में पुष्कर अथवा अन्य तीर्थ स्थान पर स्नान दान का विशेष महत्व है


16 : बुधवार : सूर्य की वृश्चिक (मार्गशीर्ष मग्घर), संक्रांति का पुण्यकाल दोपहर 12 बज कर 41 मिनट तक है ; 17: वीरवार : सौभाग्य सुंदरी व्रत, संकष्टी  श्री गणेश चतुर्थी व्रत, चंद्रमा रात्रि 8 बज कर 32 मिनट पर उदय होगा, पंजाब केसरी लाला लाजपतराय जी का बलिदान दिवस


20 : रविवार :  चेहल्लुम (मुस्लिम पर्व)


21 : सोमवार: श्री महाकाल भैरव अष्टमी, भैरव जी की उत्पत्ति, श्री भैरव जी की जयंती, सांयकाल अष्टमी में श्री भैरव पूजन-दर्शन (इस दिन गंगा स्नान का विशेष महत्व है), मासिक कालाष्टमी व्रत, सूर्य ‘सायण’ धनु राशि में प्रवेश करेगा


22 : मंगलवार : राष्ट्रीय महीना मार्गशीर्ष प्रारंभ


23 : बुधवार : स्वामी श्री महावीर दीक्षा दिवस (जैन), सत्य साईं बाबा जी की जयंती


24 : वीरवार: बलिदान दिवस श्री गुरु तेग बहादुर साहिब जी (गुरुद्वारा श्री सीसगंज साहिब, चांदनी चौक, दिल्ली), शहीदी दिवस भाई मतिदास जी एवं भाई सती दास जी)


25 : शुक्रवार : उत्पन्ना एकादशी व्रत, वैतरणी व्रत


26 : शनिवार:  शनि प्रदोष व्रत


27 : रविवार: मासिक शिवरात्रि व्रत, श्री बाला जयंती, श्री संगमेश्वर महादेव (अरुणाय, पिहोवा, हरियाणा) के शिव त्रयोदशी पर्व की तिथि


28 : सोमवार : मेला देविका स्नान पुरमंडल जम्मू (जम्मू-कश्मीर)


29 : मंगलवार : भौमवती (मंगलवारी) अमावस,स्नान दान आदि की मार्गशीर्ष अमावस, शहादते-ईमाम हसन जी


30 नवम्बर बुधवार : मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष प्रारंभ, आखिरी चहार शम्बा (मुस्लिम पर्व)।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You