Subscribe Now!

रविवार का गुडलक देगा संतान को लंबी आयु

You Are HereDharm
Sunday, August 13, 2017-10:41 AM

रविवार दिनांक 13.08.17 भाद्रपद कृष्ण षष्ठी को बलराम जयंती पर्व मनाया जाएगा। बलराम अर्थात (बलभद्र) को भगवान विष्णु के 8 वें अवतार श्रीकृष्ण के बड़े भाई के रूप में जाना जाता है। शास्त्रनुसार बलराम अद्वैत अर्थात शेषनाग के अवतार के रूप में पूजे जाते हैं। इस दिन हल और बैल की पूजा का विधान है। इस व्रत पूजन में हल से जुता हुआ अनाज व गाय के दूध व घी का सेवन वर्जित है। इस व्रत-पूजन में वृक्ष पर लगे खाद्य पदार्थ खाने की अनुमति होती हैं। इस पूजन में मुख्यतः छठ माता और बलराम की पूजा की जाती है। यह व्रत-पूजन पुत्रवती स्त्रियां अपने संतान की लंबी आयु के लिए करती हैं। इस पूजन से व्यक्ति को बल और बुद्धि की प्राप्ति भी होती है।

विशेष पूजन: शिवालय जाकर शिव पार्वती व गणेश पूजन करें, तेल का दीप करें, चंदन की अगरबत्ती करें, पीले कनेर के फूल चढ़ाएं, हल्दी चढ़ाएं तथा फलों का भोग लगाएं। इस विशेष मंत्र को 108 बार जपें। इसके बाद फल किसी गरीब तो बांट दें।

विशेष मंत्र: ॐ नम्रभूषणायै नमः॥

विशेष मुहूर्त: प्रातः 10:45 - दिन 11:45 तक।

अभिजीत मुहूर्त: दिन 12:00 से 12:53 तक।

अमृत काल: रात 22:06 से रात 23:39 तक।

यात्रा महूर्त: दिशाशूल - पश्चिम। राहुकाल वास - उत्तर। अतः आज पश्चिम व उत्तर दिशा की यात्रा टालें।

आज का गुडलक ज्ञान
गुडलक कलर: मरून।

गुडलक दिशा: पूर्व।

गुडलक टाइम: शाम 19:07 से रात 20:34 तक।

गुडलक मंत्र: ब्रीं बलभद्राय नमः॥

गुडलक टिप: शारीरिक बल में वृद्धि हेतु शिवलिंग पर चढ़े सरसों के तेल से मालिश करें।

गुडलक फॉर बर्थडे: नौकरी में सक्सेस के लिए किसी नर्मदेश्वर शिवलिंग पर कुष्मांड चढ़ाएं।

गुडलक फॉर एनिवर्सरी: दंपति किसी देवी मंदिर में पान के पत्ते चढ़ाने से परिजनों के कष्ट दूर होंगे।
आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You